रूस के पर्म स्टेट यूनिवर्सिटी में गोलीबारी, 8 की मौत, 24 लोग घायल, एक छात्र ने ही दिया घटना को अंजाम

के परिसर में सोमवार को एक बंदूकधारी द्वारा की गई गोलीबारी में कम से कम आठ लोगों की मौत हो गई और 24 अन्य घायल हो गए, अधिकारियों ने कहा कि अपराधी एक छात्र है और उसे पकड़ लिया गया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

रूस के पर्म स्टेट यूनिवर्सिटी के परिसर में सोमवार को एक बंदूकधारी द्वारा की गई गोलीबारी में कम से कम आठ लोगों की मौत हो गई और 24 अन्य घायल हो गए, अधिकारियों ने कहा कि अपराधी एक छात्र है और उसे पकड़ लिया गया है। टीएएसएस न्यूज एजेंसी ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, 24 घायलों में से 19 को गोलियां लगी थीं।

मंत्रालय ने कहा कि वर्तमान में 25 चिकित्सा दल साइट पर काम कर रहे हैं। रूसी जांच समिति के अनुसार, छात्र ने विश्वविद्यालय परिसर में दिन में पहले गोलियां चलाईं। शूटर को हिरासत में ले लिया गया है और अधिकारियों ने उसकी पहचान कर ली है लेकिन अभी तक इसे सार्वजनिक नहीं किया है।

कमिटी ने कहा कि पकड़े जाने के दौरान जब उसने विरोध करने की कोशिश की तो संदिग्ध घायल हो गया। इस बीच, राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने प्रधानमंत्री (मिखाइल) मिशुस्तीन को स्वास्थ्य मंत्री मिखाइल मुराशको और विज्ञान और उच्च शिक्षा मंत्री वालेरी फालकोव को घटनास्थल पर भेजने का निर्देश दिया है।

क्रेमलिन के एक प्रवक्ता ने कहा, "राष्ट्रपति इस त्रासदी के कारण अपने रिश्तेदारों और दोस्तों को खोने वालों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हैं।" कानून प्रवर्तन एजेंसी के एक सूत्र ने टीएएसएस को बताया कि शूटिंग के दौरान कुछ छात्रों ने हमलावर से बचने के लिए खुद को विश्वविद्यालयों के सभागारों में बंद कर लिया, जबकि अन्य खिड़कियों से बाहर कूद गए।


सूत्र ने कहा कि अपराधी 'दर्दनाक' गैर-घातक हथियार से लैस था। बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में छात्रों को कैंपस की इमारतों की खिड़कियों से सामान फेंकते हुए दिखाया गया है।

विश्वविद्यालय के प्रोफेसरों में से एक, इवान पेचिश्चेव ने बीबीसी को बताया कि उन्होंने छात्रों को एक इमारत से भागते हुए देखा और जब वह कक्षा में गए तो लोग दूसरी मंजिल से कूद गए। इस साल की शुरूआत में, एक 19 वर्षीय बंदूकधारी ने मध्य रूसी शहर कजान में अपने पुराने स्कूल में गोलियां चलाईं, जिसमें 9 लोग मारे गए।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia