लीबिया में बाढ़ ने मचाई तबाही, 3000 से ज्यादा लोगों की मौत, 5000 से ज्यादा लापता, बचाव अभियान जारी

अल-खर्राज़ ने कहा कि 5,200 लोग लापता हो गए हैं। उन्‍होंने कहा कि मरने वालों की संख्या काफी अधिक हो सकती है क्‍योंकि खोज और बचाव अभियान अभी जारी है, और शहर के भीतर विभिन्न स्थानों से और शव बरामद किए जा रहे हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

आईएएनएस

लीबिया के पूर्वी शहर डेर्ना में रविवार को आई विनाशकारी बाढ़ से मरने वालों की संख्या बढ़कर 3,060 हो गई है, जबकि 5,200 अन्य लापता हैं।

पूर्वी शहर के आंतरिक मंत्रालय के प्रवक्ता तारेक अल-खर्राज़ ने मंगलवार को समाचार एजेंसी शिन्हुआ को बताया, "परिजनों द्वारा पहचाने जाने के बाद अधिकारियों ने 2,800 शवों को दफना दिया है, जबकि 260 अज्ञात शव शहर के अस्पताल में हैं।"

अल-खर्राज़ ने कहा कि 5,200 लोग लापता हो गए हैं। उन्‍होंने कहा कि मरने वालों की संख्या काफी अधिक हो सकती है क्‍योंकि खोज और बचाव अभियान अभी जारी है, और शहर के भीतर विभिन्न स्थानों से और शव बरामद किए जा रहे हैं।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, तटीय शहर में आपदा आने के 36 घंटे से अधिक समय बाद मंगलवार को डेर्ना तक सहायता और बचाव प्रयास शुरू हो गए। बाढ़ ने शहर की ओर जाने वाली कई सड़कों को या तो गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त कर दिया है या पूरी तरह से नष्ट कर दिया है। शहर की आबादी करीब 89,000 है।

इस बीच, इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ रेड क्रॉस और रेड क्रिसेंट सोसाइटीज का प्रतिनिधित्व करने वाले लीबिया के दूत तमेर रमजान ने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र की एक बैठक में कहा कि उनका मानना ​​है कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में अभी भी कम से कम 10,000 लोग लापता हैं।

पूर्वी लीबिया में रविवार को आए भूमध्यसागरीय तूफान के कारण वहां बड़े पैमाने पर बाढ़ आई है।

लीबियाई प्रेसीडेंसी काउंसिल के अध्यक्ष मोहम्मद मेनफी ने सोमवार को बाढ़ के बाद मदद के लिए अंतर्राष्ट्रीय सहायता का आह्वान किया, और डर्ना, अल-बायदा और शाहहाट शहरों को सहायता की सख्त जरूरत वाले क्षेत्र घोषित किया।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */