पाकिस्तान में ईंधन और बिजली होगी महंगी, IMF से मदद के लिए सब्सिडी में कटौती करेगी शहबाज सरकार

आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के सामने बेलआउट की मांग की है। जिस पर आईएमएफ ने कुछ शर्तें रख दी हैं, उन्हीं शर्तो को पूरा करने के लिए पाकिस्तान यह कदम उठाने की तैयारी कर रहा है।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

पाकिस्तान में आसमान छूती मंहगाई के बीच ईंधन और बिजली महंगी होने वाली है, क्योंकि शहबाज शरीफ सरकार अब सब्सिडी घटाने पर विचार कर रही है। इसके साथ ही पाकिस्तान 30 लग्जरी वस्तुओं के आयात पर प्रतिबंध लगाने के बारे में भी सोच रहा है।

दरअसल, आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के सामने बेलआउट की मांग की है। जिस पर आईएमएफ ने कुछ शर्तें रख दी हैं, उन्हीं शर्तो को पूरा करने के लिए पाकिस्तान यह कदम उठाने की तैयारी कर रहा है।


दोहा में नाथन पोर्टर के नेतृत्व में आईएमएफ मिशन के साथ औपचारिक बातचीत के पहले दिन, पाकिस्तान के वित्त मंत्री मिफ्ता इस्माइल ने देश की आर्थिक टीम का नेतृत्व किया। इस दौरान उन्होंने स्पष्ट किया कि नई गठबंधन सरकार अपने पद पर बनी रहेगी और कड़े निर्णय लेगी। इसके अलावा, वह मूल निधि कार्यक्रम में किए गए सुधारों को पूरा करेगी और संरचनात्मक मानकों पर भी जोर देगी।

जानकार सूत्रों ने कहा कि वार्ता अच्छी तरह से शुरू हुई, क्योंकि दोनों पक्ष प्रमुख ने राज्य के आर्थिक निर्णय लेने को राजनीति से अलग करने के सिद्धांत पर सहमति जतायी। सूत्रों ने कहा कि सरकार कुछ दिनों के अंदर ईंधन और ऊर्जा की कीमतों में संशोधन करेगी और शुल्क बढ़ाने के बजाय, वाहनों और मोबाइल फोन के अलावा लगभग 30 लग्जरी वस्तुओं पर पूर्ण प्रतिबंध लगा देगी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia