इमरान खान ने प्रधानमंत्री पद और सत्ता गंवाने के बाद किया ऐसा काम, पूरे पाकिस्तान में हो गई किरकिरी!

अपने समर्थकों को उत्साहित करने के लिए पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि ये वे लोग हैं, जिन्होंने हमेशा अपनी संप्रभुता और लोकतंत्र की रक्षा की है। पाकिस्तान 1947 में एक स्वतंत्र देश बन गया, लेकिन स्वतंत्रता संग्राम आज फिर से शासन परिवर्तन की एक विदेशी साजिश के खिलाफ शुरू होता है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के सोशल मीडिया हैंडल पर बड़े प्रदर्शनों को दिखाने के लिए तस्वीरों को फोटोशॉप करने का आरोप लगाया गया है। पाकिस्तान के वरिष्ठ पत्रकार नजम सेठी, जो अब पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के प्रमुख हो सकते हैं, ने एक ट्वीट में कहा कि पीटीआई तस्वीरों को फोटोशॉप कर रही है।

एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, इससे पहले पीटीआई के समर्थकों और कार्यकर्ताओं ने अपदस्थ प्रधानमंत्री इमरान खान के समर्थन में देशभर के प्रमुख शहरों की सड़कों पर उतरना शुरू कर दिया था। खान ने पद से हटाए जाने के एक दिन बाद ट्वीट किया था, जिसे उन्होंने 'शासन परिवर्तन की विदेशी साजिश' के खिलाफ 'स्वतंत्रता संग्राम' की शुरुआत के रूप में चिह्न्ति किया था।

अपने समर्थकों को उत्साहित करने के लिए पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा, "ये वे लोग हैं, जिन्होंने हमेशा अपनी संप्रभुता और लोकतंत्र की रक्षा की है। पाकिस्तान 1947 में एक स्वतंत्र देश बन गया, लेकिन स्वतंत्रता संग्राम आज फिर से शासन परिवर्तन की एक विदेशी साजिश के खिलाफ शुरू होता है। ये देश के लोग हैं जो हमेशा अपनी संप्रभुता और लोकतंत्र की रक्षा करते हैं।"

फ्राइडे टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, डिजिटल मीडिया पर खान के प्रमुख व्यक्ति अरसलान खालिद के घर पर कथित तौर पर छापा मारा गया और उसके परिवार के सदस्यों के मोबाइल फोन जब्त कर लिए गए। पीटीआई के आधिकारिक खाते ने मामले की जांच के लिए संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) को बुलाया।

पीटीआई के आधिकारिक अकाउंट से किए गए एक ट्वीट में कहा गया, "डिजिटल पर इमरान खान पर पूर्व-फोकल व्यक्ति, अरसलान खालिद के घर पर छापा मारा गया है और उन्होंने उसके परिवार से सभी फोन ले लिए हैं।" खालिद ने कभी भी "सोशल मीडिया पर किसी को गाली नहीं दी और न ही कभी किसी भी संस्थान पर हमला किया।"

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 12 Apr 2022, 10:21 AM