पाक संसद में इमरान खान ने हासिल किया विश्वास मत, पक्ष में पड़े 178 वोट, बने रहेंगे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री

इमरान खान को बहुमत साबित करने के लिए 172 वोटों की जरूरत थी लेकिन इमरान खान के समर्थन में पाकिस्तान संसद में 178 वोट डाले गये। पाकिस्तान के नीचले सदन यानि लोकसभा में कुल 342 सांसद हैं जिनमें दो सांसद पद अभी खाली हैं।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान के राजनीतिक भविष्य का सबसे बड़ा फैसला हो गया है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने नेशनल असेंबली में बहुमत हासिल कर लिया है। यानी पाक पीएम इमरान खान ही रहेंगे। इमरान खान को बहुमत साबित करने के लिए 172 वोटों की जरूरत थी लेकिन इमरान खान के समर्थन में पाकिस्तान संसद में 178 वोट डाले गये।

आपको बता दें, इमरान खान को प्रधानमंत्री पद पर बने रहने के लिए संसद में 172 सांसदों का समर्थन चाहिए था। पाकिस्तान के नीचले सदन यानि लोकसभा में कुल 342 सांसद हैं जिनमें दो सांसद पद अभी खाली हैं। इमरान खान सरकार ने बहुमत के आंकड़े को आसानी से पार कर लिया। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ यानि इमरान खान की पार्टी के पास 179 सांसद हैं जिनमें से कुछ सांसदों ने सीनेट की वोटिंग के दौरान क्रास वोटिंग किया था इसीलिए कहा जा रहा था कि नेशनल एसेंबली में भी वोटिंग के दौरान क्या उनके सांसद क्रास वोटिंग करेंगे?

वहीं, इमरान खान की पार्टी का दावा है कि 175 सांसदों ने सरकार का साथ देने का वादा किया है और उनकी पार्टी सरकार बचाने में कामयाब हो जाएगी। लेकिन वोटिंग के दौरान इमरान खान के समर्थन में पाकिस्तान संसद में 178 मत डाले गये हैं। यानि, इमरान खान को जितने वोटों की दरकार थी उससे 6 वोट ज्यादा मिले हैं। वहीं, जब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने लोकसभा का चुनाव जीता था उस वक्त उनके 176 सांसद चुने गये थे मगर बहुमत परीक्षण के दौरान उनकी पार्टी को उससे भी 2 वोट ज्यादा मिले हैं। इमरान खान सरकार का समर्थन कर रही छोटी पार्टियों ने इमरान खान का ही साथ दिया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia