भारतीय नागरिक बिना शेंगेन वीजा के यूरोपीय संघ की एयरलाइन से नहीं जा सकेंगे ब्रिटेन

भारतीय नागरिक अब बिना ट्रांजिट या 'शेंगेन वीजा' के यूरोपीय संघ की कुछ एयरलाइनों जैसे लुफ्थांसा, केएलएम और एयर फ्रांस से ब्रिटेन के लिए उड़ान नहीं भर सकेंगे।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

भारतीय नागरिक अब बिना ट्रांजिट या 'शेंगेन वीजा' के यूरोपीय संघ की कुछ एयरलाइनों जैसे लुफ्थांसा, केएलएम और एयर फ्रांस से ब्रिटेन के लिए उड़ान नहीं भर सकेंगे। चूंकि ब्रिटेन अब यूरोपीय संघ का हिस्सा नहीं है, इसीलिए इसने ब्रेक्सिट के बाद, गैर-यूरोपीय संघ के नागरिकों के लिए अपनी एयरलाइनों द्वारा संचालित ट्रांजिट उड़ानों पर ब्रिटेन जाने के लिए ट्रांजिट शेंगेन वीजा प्राप्त करना अनिवार्य कर दिया है।

शेंगेन वीजा एक अल्पकालिक वीजा है जो अपने धारक को पूरे शेंगेन क्षेत्र में स्वतंत्र रूप से यात्रा करने की अनुमति देता है, जो 26 यूरोपीय संघ के देशों या शेंगेन राज्यों को उनके बीच सीमा नियंत्रण के बिना कवर करता है। यह सेवा पिछले साल एक जनवरी को शुरू हुई थी।


गैर-यूरोपीय संघ के नागरिक ट्रांजिट या नियमित शेंगेन वीजा के बिना केवल नॉन-स्टॉप उड़ानों के माध्यम से और केवल खाड़ी देशों या स्विट्जरलैंड के माध्यम से ब्रिटेन के लिए उड़ान भर सकते हैं। यूरोपीय संघ का नियम स्विट्जरलैंड के लिए लागू नहीं होता क्योंकि यह संघ का सदस्य नहीं है।

हालांकि, कई सेवाएं ऐसी हैं जो सीधे यूनाइटेड किंगडम के लिए उड़ान भरती हैं। भारत द्वारा निर्धारित अंतरराष्ट्रीय उड़ानें फिर से शुरू करने के बाद, विदेशी एयरलाइनों ने भारत और बाकी दुनिया के बीच वन-स्टॉप कनेक्शन की पेशकश कर दी है।

रूस-यूक्रेन संघर्ष के बाद, इस वन-स्टॉप व्यवसाय में भी काफी वृद्धि हुई है। पिछले साल, एयर इंडिया ने भारत और यूके के बीच नॉन-स्टॉप उड़ानों की घोषणा की थी।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia