अफगानिस्तान: भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दिकी की कंधार में मौत, तालिबान युद्ध को कर रहे थे कवर

कंधार के स्पिन बोल्डक जिले में हुई झड़पों में रॉयटर्स के फोटो जर्नलिस्ट दानिश सिद्दीकी की मौत हो गई। भारतीय पत्रकार दानिश पिछले कुछ दिनों से कंधार की स्थिति को कवर कर रहे थे।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

अफगानिस्तान के कंधार से भारतीय पत्रकार की मौत की खबर सामने आ रही है। टोलो न्यूज ने इसकी जानकारी ट्वीट करके भी दी है। टोलो न्यूज के मुताबिक कंधार के स्पिन बोल्डक जिले में हुई झड़पों में रॉयटर्स के फोटो जर्नलिस्ट दानिश सिद्दीकी की मौत हो गई, सूत्रों ने पुष्टि की। आपको बता दें, भारतीय पत्रकार पिछले कुछ दिनों से कंधार की स्थिति को कवर कर रहे थे।

आपको बता दें, फोटो जर्नलिस्ट दानिश सिद्दीकी न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के लिए काम करते थे। 2018 में उन्हें पुलित्जर अवॉर्ड दिया गया था। आपको बता दें, अफगानिस्तान की स्पेशल फोर्सेस जब एक रेस्क्यू मिशन पर थी, तब दानिश उनके साथ मौजूद थे। दानिश ने 3 दिन पहले किए ट्वीट में भी इसका जिक्र किया है। दानिश ने अपने ट्विटर हैंडल पर 13 जुलाई को एक पोस्ट की थी। इसमें उन्होंने बताया था कि वे पूरे अफगानिस्तान कई मोर्चों पर लड़ाई लड़ रही अफगान स्पेशल फोर्सेस के साथ हैं। उन्होंने लिखा था- मैं एक मिशन पर इन युवाओं के साथ हूं। आज कंधार में ये फोर्सेस रेस्क्यू मिशन पर थीं। इससे पहले ये लोग पूरी रात एक कॉम्बैट मिशन पर थे।


आपको बता दें, दानिश मुंबई के रहने वाले थे। उन्हें 2018 में रॉयटर्स के फोटोग्राफी स्टाफ के साथ पुलित्जर अवॉर्ड दिया गया था। उन्होंने दिल्ली की जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी से इकोनॉमिक्स में ग्रैजुएट किया था। 2007 में उन्होंने जामिया के मास कम्युनिकेशन रिसर्च सेंटर से मास कम्युनिकेशन की डिग्री ली थी। उन्होंने टेलीविजन से अपना करियर शुरू किया और 2010 में रॉयटर्स से जुड़े। इसी हफ्ते जब तालिबान ने कंधार के स्पिन बोल्डक पर कब्जा किया तो स्पेशल फोर्सेस के साथ लगातार उसकी मुठभेड़ शुरू हो गईं। पिछले कई दिनों से दोनों के बीच भीषण संघर्ष जारी है। दानिश इसी मिशन को कवर कर रहे थे।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia