Getting Latest Election Result...

नेपाल विमान दुर्घटना में मारे गए सभी यात्री? नेपाल सरकार ने दिया बड़ा बयान, प्लेन में 4 भारतीयों समेत 22 लोग थे सवार

विमान दुर्घटना पर जानकारी देते हुए नेपाल सेना के प्रवक्ता ने कहा कि 15 नेपाली सेना के जवानों की एक टीम को शवों को निकालने के लिए दुर्घटना स्थल के पास उतारा गया है। दुर्घटनास्थल लगभग 14,500 फीट की ऊंचाई पर स्थित है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

नेपाल प्लेन क्रैश में क्या सभी यात्री मारे गए? इस सवाल का फिलहाल आधिकारिक जवाब तो नहीं मिल पाया है। विमान में चार भारतीयों समेत कुल 22 लोग सवार थे। सभी यात्रियों के मारे जाने के संबंध में नेपाल सरकार की ओर से बड़ा बयान आया है। नेपाल गृह मंत्रालय के प्रवक्ता फदींद्र मणि पोखरेल ने कहा, “हमें संदेह है कि विमान में सवार सभी यात्रियों की जान चली गई है। हमारे प्रारंभिक आकलन से पता चलता है कि विमान दुर्घटना में कोई भी नहीं बच सकता था। लेकिन आधिकारिक बयान अभी जारी होना बाकी है।”

वहीं, विमान दुर्घटना पर जानकारी देते हुए नेपाल सेना के प्रवक्ता ने कहा, “15 नेपाली सेना के जवानों की एक टीम को शवों को निकालने के लिए दुर्घटना स्थल के पास उतारा गया है। दुर्घटनास्थल लगभग 14,500 फीट की ऊंचाई पर स्थित है।”


जिस जगह पर विमान क्रैश हुआ था उसके बारे में आज सुबह नेपाल की सेना ने जानकारी देते हुए एक तस्वीर शेयर की थी। इसके बाद नेपाल पुलिस निरीक्षक राज कुमार तमांग के नेतृत्व में एक टीम विमान दुर्घटनास्थल पर पहुंची थी। उन्होंने बताया था कि यात्रियों के कुछ शवों को पहचाना मुश्किल हो रहा है। पुलिस अवशेष इकट्ठा कर रही है।

नेपाल के मस्टैंग में थासांग-2 के सानोसवेयर में यह विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ था। क्रैश होने की जानकारी रविवार रात को आ गई थी। रविवार सुबह इस विमान ने नेपाल के पोखरा से जोमसोम के लिए उड़ान भरी थी। इसके बाद यह विमान खराब मौसम के बीच लापता हो गया था। विमान में 4 भारतीय नागरिक और 3 जापानी नागरिक सवार थे। बाकी यात्री नेपाली नागरिक थे। विमान में चालक दल समेत कुल 22 लोग सवार थे।


उधर, महाराष्ट्र के ठाणे वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक उत्तम सोनवाने ने कहा, “ठाणे का रहने वाला त्रिपाठी परिवार नेपाल गया था. लेकिन उनका प्लेन लापता होने के बाद से उनकी कोई जानकारी नहीं है। उनके परिजन भारतीय दूतावास के संपर्क में है। मामले में आगे की जानकारी मिलने पर ही कुछ बता पाएंगे।”

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 30 May 2022, 11:49 AM