Israel-Hamas War: हमास की हिरासत में 31 बंधकों की हुई मौत, इजरायल ने की पुष्टि, युद्धविराम के लिए कोशिशें तेज

कतर और मिस्र के वार्ताकारों के अनुसार, हमास युद्ध का स्थायी अंत और इजरायल रक्षा बलों (आईडीएफ) की वापसी चाहता है, जिसे इजरायल ने अस्वीकार कर दिया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

इजरायल और हमास के बीच जंगा जारी है। इस बीच इजरायल ने हमास के कब्जे में जो बंधक हैं उन्हें लेकर बड़ा अपडेट दिया है। इजरायल ने बताया कि गाजा में हमास की हिरासत में 136 बंधकों में से 31 की मौत हो चुकी है। आईडीएफ ने एक बयान में कहा कि सेना ने मारे गए बंधकों के परिवारों को मौत के बारे में सूचित कर दिया है।

इजरायल सेना, सैन्य खुफिया और खुफिया एजेंसियों ने इस मामले को अमेरिका, कतर और मिस्र सहित अंतरराष्ट्रीय वार्ताकारों को सूचित किया है, जो इजरायल और हमास के बीच चल रहे युद्ध को समाप्त करने के लिए काम कर रहे हैं।

अमेरिका, कतर और मिस्र के प्रयासों से इजरायल और हमास 24 नवंबर से 1 दिसंबर तक एक सप्ताह के युद्धविराम पर सहमत हुए। एक सप्ताह के संक्षिप्त संघर्ष विराम के दौरान, हमास की हिरासत में मौजूद 253 बंधकों में से 105 को रिहा कर दिया गया और इजरायल की जेलों में बंद 324 फिलिस्तीन कैदियों को भी बदले में रिहा किया गया।

इस बीच, कतर के प्रधानमंत्री शेख मोहम्मद अल-थानी ने एक बयान में कहा है कि दूसरे युद्धविराम के लिए चर्चा आगे बढ़ रही है। इजरायल एक महीने के संघर्षविराम पर सहमत हो गया है, जिसमें हमास की हिरासत में मौजूद 35 इजराइली बंधकों को रिहा किया जाएगा। समझौते के तहत इजरायल भी बड़ी संख्या में फिलिस्तीनियों को इजरायली जेलों से रिहा करेगा।


कतर और मिस्र के वार्ताकारों के अनुसार, हमास युद्ध का स्थायी अंत और इजरायल रक्षा बलों (आईडीएफ) की वापसी चाहता है, जिसे इजरायल ने अस्वीकार कर दिया है।

बातचीत और मध्यस्थता वार्ता के साथ, युद्धविराम (कम से कम एक महीने) तक पहुंचने की संभावना अधिक है, और कतर के प्रधानमंत्री के अनुसार, जो मध्यस्थता वार्ता में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं, युद्धविराम काफी नजदीक है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;