Israel Hamas War: हमास ने 13 इजरायली समेत 17 और बंधकों को किया रिहा, 39 फिलिस्तीनियों को इजरायल ने किया आजाद

समाचार एजेंसी श‍िन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, ये 17 लोग बंधकों का दूसरा समूह है, जिसे फिलिस्तीनी कैदियों के बदले में इजरायल वापस भेजा गया।

आजाद होने के बाद अपने परिजनों से मिलते इजरायली बंधक।
आजाद होने के बाद अपने परिजनों से मिलते इजरायली बंधक।
user

नवजीवन डेस्क

हमास ने युद्धविराम के बीच एक बयान में कहा है कि उसने इजरायली और विदेशी बंधकों के दूसरे समूह को रेड क्रॉस को सौंप दिया है। इजरायल डिफेंस फोर्सेज (आईडीएफ) ने शनिवार देर रात अपने एक्स अकाउंट पर एक पोस्ट में लिखा, 13 इजरायली और चार थाई समेत 17 बंधक मिस्र से प्रवेश कर गए हैं और इजरायल जा रहे हैं।

इसके साथ ही इजरायल ने अपने कैद से 39 फिलिस्तीनियों को भी रिहा किया। वेस्ट बैंक में भीड़ ने 39 फिलिस्तीनी कैदियों, सभी महिलाओं और बच्चों का स्वागत किया। हमास के इस आरोप के कारण कि इजरायल संघर्ष विराम समझौते का उल्लंघन कर रहा है, चार दिवसीय संघर्ष विराम के दूसरे दिन बंधकों के आदान-प्रदान में कई घंटों की देरी हुई।

वेस्ट बैंक में फिलिस्तीनी कैदी का भीड़ ने किया स्वागत।
वेस्ट बैंक में फिलिस्तीनी कैदी का भीड़ ने किया स्वागत।

समाचार एजेंसी श‍िन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, ये 17 लोग बंधकों का दूसरा समूह है, जिसे फिलिस्तीनी कैदियों के बदले में इजरायल वापस भेजा गया है। स्थानीय समयानुसार शनिवार शाम करीब 4 बजे आदान-प्रदान होने वाला था। लेकिन हमास द्वारा इजरायल पर चार दिवसीय मानवीय संघर्ष विराम समझौते की शर्तों को पूरा करने में विफल रहने का आरोप लगाने के बाद इसमें कई घंटों की देरी हुई।


बंधकों की रिहाई पर परिजनों ने क्या कहा?

इजरायली बंदी माया रेगेव की मां ने हमास द्वारा अपनी 21 वर्षीय बेटी की रिहाई के बाद मिश्रित भावनाएं व्यक्त की। उन्होंने कहा, “मैं उत्साहित और खुश हूं कि माया अब हमारे पास आ रही है। फिर भी मेरा दिल बैठा जा रहा है, क्योंकि मेरा बेटा इताय अभी भी गाजा में हमास की कैद में है।”

माया रेगेव का 18 वर्षीय बेटा इताय, जिसे सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए फुटेज में एक पिक-अप ट्रक के पीछे हाथ बंधे हुए दिखाया गया था, माना जाता है कि वह अभी भी गाजा में हमास की कैद में है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;