Israel-Hamas War: सऊदी अरब की इजरायल को दो टूक, 'गाजा में हमले रुके बिना राजनयिक संबंध नहीं'

समाचार एजेंसी श‍िन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, सऊदी विदेश मंत्रालय ने एक बयान में व्हाइट हाउस की इस बात का खंडन किया कि इजरायल और सऊदी अरब ने संबंधों को सामान्य बनाने की बात कही है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

इजरायल और हमास में जंग जारी है। इस बीच सऊदी अरब का अहम बयान आया है। सऊदी अरब ने कहा कि उसने अमेरिकी प्रशासन से कहा है कि वह इजरायल के साथ तब तक राजनयिक संबंध नहीं रखेगा, जब तक इजरायल गाजा पट्टी में हमले बंद नहीं कर देता और एक स्वतंत्र फिलिस्तीनी देश की स्थापना नहीं हो जाती।

समाचार एजेंसी श‍िन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, सऊदी विदेश मंत्रालय ने बुधवार को एक बयान में व्हाइट हाउस की इस बात का खंडन किया कि इजरायल और सऊदी अरब ने संबंधों को सामान्य बनाने की बात कही है।

मंत्रालय ने फिलिस्तीनी मुद्दे के लिए उनके देश के अटूट समर्थन और फिलिस्तीनी लोगों को उनके वैध अधिकार प्राप्त करने की आवश्यकता बताई। इसमें कहा गया है कि इजरायल के साथ तब तक कोई राजनयिक संबंध नहीं होंगे जब तक कि 1967 की सीमाओं पर एक स्वतंत्र फिलिस्तीनी देश की मान्यता नहीं दी जाती, और इजरायली सेनाएं गाजा से वापस नहीं चली जातीं।

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन के सऊदी अरब के दौरे के एक दिन बाद मंगलवार को एक ऑनलाइन प्रेस वार्ता में, अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने कहा कि अमेरिकी सरकार इजरायल और सऊदी अरब के संबंधों को सामान्‍य बनाने पर चर्चा कर रही है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;