इजरायलः संकट में नेतन्याहू, बढ़ रहा है बंधकों को वापस लाने का दबाव, आवास के पास निकाली गई रैली

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि हमें अब डील को आगे बढ़ाना चाहिए। अगर प्रधानमंत्री बंधकों की बलि देने का निर्णय लेते हैं तो उन्हें नेतृत्व दिखाना चाहिए और ईमानदारी से जनता के साथ अपनी स्थिति साझा करनी चाहिए। सरकार बातचीत की मेज पर बैठे, तय करे कि क्या करना है।

नेतन्याहू पर बढ़ रहा है बंधकों की रिहाई  का दबाव, घर के पास निकाली गई रैली
नेतन्याहू पर बढ़ रहा है बंधकों की रिहाई का दबाव, घर के पास निकाली गई रैली
user

नवजीवन डेस्क

गाजा में हमास को तबाह करने का दावा कर रहे इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू पर बंधकों की वापसी सुनिश्चित करने के लिए दबाव हर दिन के साथ बढ़ता जा रहा है। अल जज़ीरा की रिपोर्ट के अनुसार, "रिश्तेदारों और समर्थकों ने बंधकों की वापसी के लिए नेतन्याहू के यरूशलेम आवास के पास फिर से विशाल रैली की।"

मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि बंधकों और लापता व्यक्तियों के परिवार फोरम ने नेतन्याहू से मांग की है कि वे स्पष्ट रूप से कहें कि वो अक्टूबर में अगवा किए गए नागरिकों, सैनिकों और अन्य लोगों को वापस लाएंगे। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि अब उनका सब्र का बांध टूटता जा रहा है। नेतन्याहू और उनकी सरकार को हमें समयसीमा बतानी होगी।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि हमें अब डील को आगे बढ़ाना चाहिए। अगर प्रधानमंत्री बंधकों की बलि देने का निर्णय लेते हैं तो उन्हें नेतृत्व दिखाना चाहिए और ईमानदारी से इजरायली जनता के साथ अपनी स्थिति साझा करनी चाहिए। एक बंदी युवक के पिता गिलाद कोरेनब्लू ने कहा: "हम अपनी सरकार से कह रहे हैं कि बातचीत की मेज पर बैठे, तय करे वो क्या करना चाहते हैं।"


एक अन्य बंदी के पिता जॉन पोलिन ने कहा कि इजरायली अपने देश की सेवा करते हैं और बदले में हम उम्मीद करते हैं कि सरकार हमारी सुरक्षा सुनिश्चित करेगी। पोलिन ने कहा, "हम सरकार से अपनी भूमिका निभाने, इसे सफल निष्कर्ष तक पहुंचाने और शेष बंधकों को जीवित वापस लाने के लिए एक समझौते का प्रस्ताव देने के लिए कह रहे हैं।"

इस बीच इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा है कि इजरायल हमास के खिलाफ पूरी तरह जीत हासिल करेगा। नेतन्याहू ने कहा, "इजरायल पूरी तरह से जीत हासिल करेगा जिसके बाद गाजा में कोई भी इकाई नहीं होगी, जो आतंकवाद को वित्तपोषित करती हो, आतंकवाद के लिए शिक्षा देती हो या आतंक फैलाती हो।"

उन्होंने कहा कि इजराइल ने 110 बंधकों को छुड़ाया है और उन सभी को वापस लाने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा, ''मैं जॉर्डन (नदी) के पश्चिम के सभी क्षेत्रों पर पूर्ण इजरायली सुरक्षा नियंत्रण पर कोई समझौता नहीं करूंगा। जब तक मैं प्रधानमंत्री हूं, इस बात पर मजबूती से कायम रहूंगा।'' इससे पहले, हमास ने संघर्ष को समाप्त करने, गाजा से इजरायली सैनिकों की वापसी, फिलिस्तीनी कैदियों की रिहाई और हमास के सत्ता में बने रहने की गारंटी की मांग की थी।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;