'इजरायल को चुकानी पड़ेगी भारी कीमत', ब्रिगेडियर जनरल मौसवी की हत्या पर बोले ईरानी राष्ट्रपति

ब्रिगेडियर जनरल मौसवी सीरिया की राजधानी दमिश्क के पास सईदा जैनब इलाके में एक हवाई हमले में मारे गए। आईआरजीसी में एक उच्च पदस्थ अधिकारी मौसवी सीरिया में ईरान के सैन्य अभियानों का समन्वय कर रहे थे।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी ने कहा है कि सीरिया में हवाई हमले में इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स (आईआरजीसी) के ब्रिगेडियर जनरल रजी मौसवी को मारने के लिए इजरायल को भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। ईरानी राष्ट्रपति ने एक प्रेस बयान में कहा, "बिना किसी संदेह के, यह कार्रवाई क्षेत्र में कब्ज़ा करने वाले ज़ायोनी शासन की हताशा, असहायता और अक्षमता का एक और संकेत है।"

ब्रिगेडियर जनरल मौसवी सीरिया की राजधानी दमिश्क के पास सईदा जैनब इलाके में एक हवाई हमले में मारे गए। आईआरजीसी में एक उच्च पदस्थ अधिकारी मौसवी सीरिया में ईरान के सैन्य अभियानों का समन्वय कर रहे थे।

इजरायल ने आरोप लगाया है कि ब्रिगेडियर जनरल मौसवी हिज़्बुल्लाह को हथियारों और सामग्रियों की आपूर्ति के समन्वय के लिए जिम्मेदार थे। हालांकि, एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान इजरायल रक्षा बल (आईडीएफ) के प्रवक्ता रियर एडमिरल डैनियल हगारी ने मौसवी की हत्या पर कोई टिप्पणी नहीं की।

इजरायलियों का आरोप है कि ईरान और उसकी आईआरजीसी हमास और हिजबुल्लाह का समर्थन कर रहे हैं, जो इजरायल पर हमले के लिए समन्वय में काम करते हैं। इस बीच, ईरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीर-अब्दुल्लाहियन ने एक सोशल मीडिया पोस्ट में कहा, "तेल अवीव एक कठिन उलटी गिनती का सामना कर रहा है।"

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;