इजरायली सेना ने हमास के शीर्ष कमांडरों को मार गिराने का किया दावा, देश पर हमले में शामिल होने का लगाया आरोप

लगातार हवाई बमबारी के बाद इजरायली सेना ने 27 अक्टूबर को गाजा में जमीनी आक्रमण शुरू किया था। इस हफ्ते सघन अभियानों के बीच इजरायली सेना गाजा शहर में दाखिल हुई। गाजा में जमीनी हमले की शुरुआत के बाद से छिड़ी लड़ाई में अब तक इजरायल के 34 सैनिक मारे गए हैं।

इजरायली सेना ने हमास के शीर्ष कमांडरों को मार गिराने का किया दावा
इजरायली सेना ने हमास के शीर्ष कमांडरों को मार गिराने का किया दावा
user

नवजीवन डेस्क

इजरायल की सेना इजरायल डिफेंस फोर्सेज (आईडीएफ) ने शुक्रवार को ऐलान किया कि उसके सैनिकों ने देश में 7 अक्टूबर के नरसंहार में भाग लेने वाले कई वरिष्ठ हमास कमांडरों को गाजा में मार डाला है। इजरायली सेना ने कहा कि कमांडर- अहमद मूसा और अम्र अलहांडी - उग्रवादी समूह कुलीन नुखबा बलों का हिस्सा थे।

मूसा नुखबा कंपनी कमांडर था जबकि अलहांडी ने एक प्लाटून कमांडर के रूप में कार्य किया था। आईडीएफ ने कहा कि ये दोनों जबालिया क्षेत्र में छिपे हुए थे। सेना ने यह भी बताया कि शिन बेट सुरक्षा एजेंसी से मिली खुफिया जानकारी के बाद यह ऑपरेशन चलाया गया।


आईडीएफ के अनुसार, मूसा हमास के उन कमांडरों में से था, जिसने 7 अक्टूबर को ज़िकिम बेस, पास के किबुत्ज़ और क्षेत्र में एक अन्य सैन्‍य चौकियों पर हमले का नेतृत्व किया था। सेना ने उत्तरी गाजा ब्रिगेड में हमास के स्नाइपर समूह के प्रमुख मुहम्मद कहलौत की हत्या की भी घोषणा की। लेकिन इसने कहलौत के बारे में कोई और जानकारी नहीं दी।

इस बीच, आईडीएफ की 252 बटालियन ने सेना पर हमला करने की योजना बना रहे हमास के 19 आतंकवादियों को मार गिराया। आईडीएफ और इज़रायली सुरक्षा एजेंसी (आईएसए) ने दावा किया है कि नुखबा बल 7 अक्टूबर को दक्षिणी इज़रायल में नरसंहार और तबाही में शामिल था।


इजरायली सेना ने 27 अक्टूबर को गाजा में अपना जमीनी आक्रमण शुरू किया। इस सप्ताह, सघन अभियानों के बीच इजरायली सेना गाजा शहर में दाखिल हुई। गाजा में ज़मीनी हमले की शुरुआत के बाद से छिड़ी भीषण लड़ाई में अब तक इजरायली सेना के 34 सैनिक मारे गए हैं। वहीं इस दौरान गाजा में हजारों नागरिकों की जान जा चुकी है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;