इजरायल के PM नेतन्याहू ने रक्षा मंत्री को किया बर्खास्त, प्रस्तावित न्याय सुधारों के विरोध में सड़कों पर उतरे हजारों लोग

इजराइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के इस फैसले के खिलाफ नाराजगी बढ़ती जा रही है। न्यूयॉर्क में इजराइल के महावाणिज्यदूत ने गैलेंट की बर्खास्तगी के विरोध में इस्तीफा देते हुए कहा कि वह नेतन्याहू सरकार की सेवा नहीं कर सकते।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने रक्षा मंत्री योआव गैलेंट को हटा दिया है। गैलेंट ने विवादास्पद न्यायपालिका योजना को रोकने की मांग की थी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, नेतन्याहू के कार्यालय ने रविवार देर रात एक संक्षिप्त बयान जारी कर कहा कि उन्होंने बिना कोई कारण बताए गैलेंट को अपने पद से हटाने का फैसला किया है।

इजराइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के इस फैसले के खिलाफ नाराजगी बढ़ती जा रही है। न्यूयॉर्क में इजराइल के महावाणिज्यदूत ने गैलेंट की बर्खास्तगी के विरोध में इस्तीफा देते हुए कहा कि वह नेतन्याहू सरकार की सेवा नहीं कर सकते। वहीं रविवार देर रात प्रदर्शनकारियों का हुजूम तेल अवीव की सड़कों पर उतर आया।

लोगों ने लोकतंत्र के समर्थन में नारे लगाए और सड़कों और पुलों को ब्लॉक कर दिया जिसमें आयलोन हाईवे भी शामिल है जो देश का एक प्रमुख इंट्रासिटी फ्रीवे है।  यरुशलम में, नेतन्याहू के घर के पास, पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर वाटर कैनन का इस्तेमाल किया। इसके बाद प्रदर्शनकारी इजराइली संसद की तरफ बढ़ गए।



वहीं पीएम नेतन्याहू के इस कदम को काफी हद तक एक संकेत के रूप में देखा जा रहा है कि प्रधानमंत्री का गठबंधन प्रमुख सुधार बिलों को आगे बढ़ाने की कोशिश जारी रखेगा, जिन्हें इस सप्ताह के अंत में संसद में लाए जाने की उम्मीद है। गैलेंट ने एक ट्वीट में जवाब दिया कि इजराइल की सुरक्षा हमेशा से मेरे जीवन का मिशन रहेगी।

इजरायल के राष्ट्रीय सुरक्षा मंत्री और सुधारों के कट्टर समर्थक इतामार बेन-गवीर ने गैलेंट की बर्खास्तगी का स्वागत किया। विपक्ष के नेता और मध्यमार्गी येश एटिड पार्टी यायर लापिड ने गैलेंट को हटाने के लिए नेतन्याहू की आलोचना की और चेतावनी दी कि न्याय व्यवस्था में बदलाव इजरायल की सुरक्षा के लिए खतरा है।

शनिवार को एक टेलीविजन भाषण में, गैलेंट ने विपक्षी दलों के साथ बातचीत करने और योजना को आगे बढ़ाने के सरकारी प्रयासों को स्थगित करने का आह्वान किया था। नेतन्याहू की लिकुड पार्टी के नेता गैलेंट ने कहा कि न्यायिक सुधार योजना ने इजरायली समाज और सेना में उथल-पुथल मचा दी है जो राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है। गैलेंट के बाद दो अन्य लिकुड सांसदों और एक मंत्री ने भी विवादास्पद योजना को रोकने का आह्वान किया।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;