रूस को जवाब देने के लिए NATO ने उठाया ये बड़ा कदम, स्टोल्टेनबर्ग बोले- यूक्रेन में तत्काल रोकना होगा युद्ध

स्टोल्टेनबर्ग ने कहा, "30 अलग-अलग स्थानों से 100 से अधिक जेट हाई अलर्ट पर हैं और बाल्टिक सागर से भूमध्य सागर तक 120 से अधिक जहाज हैं। साथ ही ब्रिटेन, अमेरिका और अन्य सहयोगी पूर्वी हिस्से में हजारों और सैनिकों को तैनात कर रहे हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

आईएएनएस

उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) के दौरे पर आए महासचिव जेन्स स्टोलटेनबर्ग ने मौजूदा यूक्रेन संकट को हल करने के लिए राजनयिक प्रयासों पर जोर दिया है। स्टोल्टेनबर्ग ने एस्टोनियाई प्रधानमंत्री काजा कैलास और उत्तरी एस्टोनिया में तापा आर्मी बेस में ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के साथ एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में यह टिप्पणी की। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने यूक्रेन में युद्ध को तत्काल रोकने रूसी सेना की वापसी और राजनयिक प्रयासों को शामिल करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा, "पिछले हफ्तों में यूक्रेन पर रूस के हमलों के जवाब में हमने हवा में जमीन पर और समुद्र में अपनी रक्षात्मक उपस्थिति बढ़ा दी है।"

स्टोल्टेनबर्ग ने कहा, "30 अलग-अलग स्थानों से 100 से अधिक जेट हाई अलर्ट पर हैं और बाल्टिक सागर से भूमध्य सागर तक 120 से अधिक जहाज हैं। साथ ही ब्रिटेन, अमेरिका और अन्य सहयोगी पूर्वी हिस्से में हजारों और सैनिकों को तैनात कर रहे हैं।"

नाटो प्रमुख ने कहा, "इतिहास में पहली बार हम नाटो प्रतिक्रिया बल की तैनाती कर रहे हैं।" तास समाचार एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से बताया कि रूस और यूक्रेन के बीच शांति वार्ता का दूसरा दौर बुधवार को हो सकता है। वार्ता का पहला दौर लगभग पांच घंटे तक चला, जो सोमवार को बेलारूस के गोमेल क्षेत्र में संपन्न हुआ, जिसमें कोई स्पष्ट सफलता नहीं मिली। एस्टोनियाई पब्लिक ब्रॉडकास्टिंग ने मंगलवार को बताया कि ब्रिटिश सेना की रॉयल वेल्श इन्फैंट्री रेजिमेंट के 900 से अधिक सदस्य और लगभग 200 डेनिश सैनिक अपने वाहनों और उपकरणों के साथ नाटो बैटलग्रुप एस्टोनिया में तापा आर्मी बेस में शामिल होंगे। एस्टोनिया के राष्ट्रपति एलार केरिस ने पहले दिन तेलिन हवाई अड्डे पर स्टोलटेनबर्ग से मुलाकात की।

वहीं यूरोपीय आयोग की अध्यक्ष उसुर्ला वॉन डेर लेयेन ने कहा कि यूरोपीय संघ (ईयू) में शामिल होने के यूक्रेन के आवेदन पर चर्चा होने से पहले संघर्ष खत्म हो जाना चाहिए। वॉन डेर लेयेन ने यूरोपीय संसद के पूर्ण सत्र को संबोधित करते हुए कहा, "आज, यूरोपीय संघ और यूक्रेन पहले से कहीं अधिक करीब हैं। अभी एक लंबा रास्ता तय करना है। हमें इस युद्ध को समाप्त करना है। हमें आगे के बारे में बात करनी चाहिए।" समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोदिमिर जेलेंस्की ने यूरोपीय संघ के लिए एक आधिकारिक अपील पर हस्ताक्षर किए, जिसमें एक नई विशेष प्रक्रिया के माध्यम से यूक्रेन के विलय के लिए कहा गया है।

मंगलवार को पूर्ण सत्र के दौरान जेलेंस्की ने वीडियो लिंक के माध्यम से कीव से भाषण देने के लिए आमंत्रित करने पर आभार व्यक्त किया कि यूरोपीय संघ के देश यूक्रेन का समर्थन करने में साथ हैं लेकिन खेद व्यक्त किया कि यह उच्च कीमत चुकाने के बाद आया है। यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल ने प्रतीकात्मक, राजनीतिक और वैध अनुरोध को गंभीरता से देखने का वचन देकर जवाब दिया, जबकि इस प्रक्रिया को स्वीकार करना मुश्किल होगा। यूरोपीय संसद के सदस्यों ने एक प्रस्ताव अपनाया जिसमें यूरोपीय संघ के संस्थानों को यूक्रेन को यूरोपीय संघ के उम्मीदवार का दर्जा देने की दिशा में काम करने का आह्वान किया गया और कहा गया कि इस तरह की प्रक्रिया उचित यूरोपीय संघ की शर्तो के अनुरूप होनी चाहिए। इस प्रस्ताव को 637 मतों के पक्ष में 13 के विरुद्ध 26 मतों के साथ अनुमोदित किया गया।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia