भारतीय मूल की कमला हैरिस के अमेरिकी उपराष्ट्रपति पद की दावेदारी पर खुशी की लहर

अमेरिका में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडेन ने जैसे ही भारतीय मूल की अमेरिकी नागरिक कमला हैरिस को उप-राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार के रूप में अपनी पसंद बताया, सोशल मीडिया पर लोगों की खुशी साफ नजर आने लगी।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

आईएएनएस

अमेरिका में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडेन ने जैसे ही भारतीय मूल की अमेरिकी नागरिक कमला हैरिस को उप-राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार के रूप में अपनी पसंद बताया, सोशल मीडिया पर लोगों की खुशी साफ नजर आने लगी। इस घोषणा के आते ही नेताओं समेत कई लोगों ने निजी तौर पर खुशी जताई। ओबामा जस्टिस डिपार्टमेंट में सिविल राइट्स डिवीजन की पूर्व प्रमुख वनिता गुप्ता ने ट्वीट किया, "झूठ नहीं कहूंगी.. आंसू आ गए हैं..।"

वहीं शिकागो की मेयर लोरी लाइटफुट ने प्राइम टाइम टेलीविजन पर कहा, "अविश्वसनीय रूप से प्रसन्न हूं!" हैरिस एक अश्वेत और भारतीय अमेरिकी हैं, उनका एक प्रमुख पार्टी से उम्मीदवार घोषित होना अपने आप में एक इतिहास बन गया है।

द लिंकन प्रोजेक्ट के सह-संस्थापक स्टीव श्मिट ने हैरिस के चुने जाने को लेकर एनबीसी से कहा, "यह वह टीम है जो डोनाल्ड ट्रम्प के जाने के बाद अमेरिका की बहाली का नेतृत्व करेगी। वह जबरदस्त हैं, वह चतुर हैं, वह तेजी से कदम उठाने वाली और मुखर हैं।"

हैरिस की बहन माया हैरिस ने अपनी मां की फोटो साझा करते हुए लिखा, "आप तब तक यह नहीं जान सकते कि कमला हैरिस कौन है, जब तक आप यह न जान लें कि हमारी मां कौन थीं। उनकी बहुत याद आ रही है लेकिन जानती हूं कि आज वह और हमारे पूर्वज मुस्कुरा रहे हैं।"

जब कमला बमुश्किल 7 साल की थीं, तब उनके माता-पिता का तलाक हो गया था। लिहाजा हैरिस बहनों को उनकी मां ने ही पाला। उनकी मां एक कैंसर शोधकर्ता थीं और मूल रूप से भारत की थीं। उनके पिता एक अर्थशास्त्री थे और वह जमैका से अमेरिका आए थे। हैरिस ओकलैंड और बर्कले के बीच बड़ी हुईं। वे अमेरिका के मिडवेस्ट और मॉन्ट्रियल में भी रहीं।

ओबामा के अभियान प्रबंधक ने टेलीविजन नेटवर्क को बताया, "वह टफ हैं और अनुभवी भी हैं।" बता दें कि 55 साल की कमला हैरिस वाइस प्रेसिडेंट पद के लिए शीर्ष दावेदार बन गईं हैं और इसे लेकर उन्हें जमकर समर्थन मिल रहा है।

Published: 12 Aug 2020, 3:30 PM
लोकप्रिय
next