दुनिया की 5 बड़ी खबरें: देश की बेटी ने ऑक्सफोर्ड में 'गाड़े झंडे'! और पाक ने इस वैक्सीन के इस्तेमाल को दी मंजूरी

कर्नाटक की रश्मि सांवत इंग्लैंड स्थित दुनियाभर में प्रतिष्ठा रखने वाली ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की स्टूडेंट यूनियन की नई अध्यक्ष चुनी गई हैं और पाकिस्तान दवा प्रबंध ब्यूरो ने कैन्सिनो कंपनी द्वारा तैयार कोविड-19 वैक्सीन के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बैंक के दस्तावेज पाने के लिए लंदन कोर्ट में अपील करेगी हुआवेई

हुआवेई कंपनी की सीएफओ मंग वानचोउ के वकील एचएसबीसी बैंक के महत्वपूर्ण दस्तावेज प्राप्त करने के लिए लंदन उच्च न्यायालय में आवेदन करने वाले हैं। बीबीसी और द गार्जियन की रिपोर्ट में यह कहा गया है। हुआवेई के इस कदम का उद्देश्य यह साबित करना है कि अमेरिका का यह आरोप निराधार है कि मंग वानचोउ ने हांगकांग स्टारकॉम टेक्नोलॉजी कंपनी के साथ हुआवेई के संबंधों को छिपाया और एचएसबीसी बैंक को गुमराह किया, ताकि वह हुआवेई को सेवाएं देना जारी रख सके। द गार्जियन ने कहा कि हुआवेई द्वारा न्यायालय से आज्ञा देने का मकसद यह जानना है कि एचएसबीसी बैंक में कौन हांगकांग में आयोजित हुई बैठक के बारे में जानता है। साथ ही बैठक के दौरान चर्चा के विषय और बैठक के नतीजे के बैंक के अंदर फैलने का दायरा कितना बड़ा है।

चीन : म्यांमार की समस्या हल करने में मदद दे मानवाधिकार परिषद

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद ने 12 फरवरी को म्यांमार संबंधी एक विशेष बैठक बुलायी। जिनेवा स्थित स्थायी चीनी प्रतिनिधिमंडल के दूत छन श्वी ने अपने भाषण में कहा कि मानवाधिकार समस्या पर चीन का रुख हमेशा स्पष्ट रहा है। इस रुख पर चीन मानवाधिकार परिषद की इस खास बैठक का समर्थन नहीं करता है। छन श्वी ने कहा कि म्यांमार में हुई घटना वहां का अंदरूनी मामला है। फौरी बात यह है कि अंतर्राष्ट्रीय समुदाय म्यांमार की प्रभुसत्ता, राजनीतिक स्वतंत्रता, प्रादेशिक अखंडता और देश की एकता का सम्मान करने की पूर्व शर्त पर म्यांमार के संबंधित पक्षों को वहां के लोगों के इरादे और हितों के मुताबिक बातचीत करने में मदद दे। छन श्वी ने कहा कि सुरक्षा परिषद द्वारा हाल में जारी बयान से उपरोक्त भावना प्रतिबिंबित हुई है।

मानवाधिकार परिषद के एक्शन को भी म्यांमार की राजनीतिक और सामाजिक स्थिरता और मुख्य समस्याओं का हल करने के लिए मददगार होना चाहिए, न कि अंतर्विरोधों को तीव्र करना चाहिए। म्यांमार का मैत्रीपूर्ण पड़ोसी देश होने के नाते, चीन आशा करता है कि म्यांमार के विभिन्न पक्षों को लोगों के इरादे और हितों का सम्मान कर बातचीत के जरिए संविधान और कानून के ढांचे में मतभेदों का अच्छी तरह निपटारा हो सकेगा। साथ ही राजनीतिक व सामाजिक स्थिरता की रक्षा की जा सकेगी। चीन म्यांमार के विभिन्न पक्षों से संपर्क कर रहा है। चीन क्षेत्रीय देश और आसियान द्वारा इसके लिए सक्रिय योगदान देने का स्वागत करता है और समर्थन भी।

पाक सुप्रीम कोर्ट में बड़ा बवाल, इमरान खान पर सुनवाई करने से सीनियर जज को रोका गया

पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट में बहुत बड़ा बवाल मच गया है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पर पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट दो हिस्सो में बंट गया है और सियासी पार्टियां भी सुप्रीम कोर्ट के ऊपर निशाना साधने लगी हैं। दरअसल, ये बवाल तब शुरू हुआ है जब पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने सुप्रीम कोर्ट के ही दूसरे सीनियर मोस्ट जज को पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान पर सुनवाई करने से मना कर दिया। जिसके बाद अब पाकिस्तानी की सियासी पार्टियों ने सुप्रीम कोर्ट चीफ जस्टिस पर निशाना साधते हुए कहा कि चीफ जस्टिस के इस फैसले से न्याय की पूरी व्यवस्था और न्यायपालिका के सम्मान को खतरे में डाला जा रहा है। पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट के एक सीनियर जज हैं, नाम है जस्टिस काज़ी फैज इशा।

जिन्हें पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से जुड़े मामलों में सुनवाई करने से पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस गुलजार अहमद ने रोक दिया है। चीफ जस्टिस ऑफ पाकिस्तान (CJP) ने अपने लिखित आदेश में बृहस्पतिवार को कहा कि पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान से संबंधित कोई भी आदेश जस्टिस काजी फैज इशा नहीं सुनेंगे। विश्व न्यायिक इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने सुप्रीम कोर्ट के ही किसी जज के खिलाफ लिखित आदेश पास किया है, कि वो देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ सुनवाई नहीं करेगा।

कर्नाटक की लड़की ने ऑक्सफोर्ड में गाड़े झंडे, बनीं स्टूडेंट यूनियन प्रेसिडेंट

कर्नाटक की रश्मि सांवत इंग्लैंड स्थित दुनियाभर में प्रतिष्ठा रखने वाली ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की स्टूडेंट यूनियन की नई अध्यक्ष चुनी गई हैं। ऑक्सफोर्ड स्टूडेंट यूनियन प्रेसिडेंट के लिए हुए चुनाव में जीत हासिल इस पद को हासिल करने के साथ ही रश्मि के नाम पर एक खास रिकॉर्ड भी दर्ज हो गया है। रश्मि सामंत पहली भारतीय महिला छात्र बन गई हैं, जिन्होंने ये पद हासिल किया है। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी स्टूडेंट यूनियन के लिए हुए चुनाव में रश्मि सामंत को अध्यक्ष पद के लिए पड़े कुल 3,708 मतों में से 1,966 वोट मिले। यानी उन्हें 50 फीसदी से ज्यादा वोट मिले और उन्होंने एकतरफा जीत चुनाव में हासिल की है। उनके सामने लड़ रहे अन्य उम्मीदवार उनको कोई चुनौती नहीं दे सके। रश्मि ने अपने चुनाव में यूनिवर्सिटी से साम्राज्यवादी प्रतिमाओं को हटाने और कोरोना को देखते हुए छात्रों को रियायत दिए जाने को सबसे ज्यादा मुद्दा बनाया था। जो छात्रों को पसंद आया और उनको अपना प्रतिनिधि चुना।

पाकिस्तान ने कैन्सिनो वैक्सीन के आपात इस्तेमाल को दी मंजूरी

पाकिस्तान दवा प्रबंध ब्यूरो ने कैन्सिनो कंपनी द्वारा तैयार कोविड-19 वैक्सीन के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है। पाक राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा से जुड़े प्रधानमंत्री के विशेष सहायक फैसल सूडान ने 13 फरवरी को सिन्हुआ न्यूज एजेंसी के साथ बातचीत में इसकी पुष्टि की। यहां बता दें कि यह चीन सैन्य चिकित्सा अनुसंधान संस्थान और कैन्सिनो कंपनी द्वारा संयुक्त रूप से विकसित एडेनोवायरस वैक्सीन है। इससे पहले पाकिस्तान में वैक्सीन के तीसरे चरण का क्लिनिकल परीक्षण किया गया। चीनी राष्ट्रीय औषधि समूह निगम (साइनोफार्म) की वैक्सीन के बाद पाकिस्तान में आपात इस्तेमाल की मंजूरी हासिल करने वाली यह दूसरी वैक्सीन है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय