कनाडा में बड़े स्तर पर विरोध प्रदर्शन की तैयारी कर रहे खालिस्तान समर्थक, भारत ने कनाडाई उच्चायुक्त को किया तलब

भारत ने खालिस्तानी पोस्टरों पर भारतीय राजनयिकों के नाम दिखाने को लेकर भारत में कनाडाई उच्चायुक्त कैमरन मैके को तलब किया।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

भारत ने खालिस्तानी पोस्टरों पर भारतीय राजनयिकों के नाम दिखाने को लेकर भारत में कनाडाई उच्चायुक्त कैमरन मैके को तलब किया। आठ जुलाई को ओटावा में भारतीय उच्चायोग और टोरंटो और वैंकूवर में दो वाणिज्य दूतावासों के बाहर खालिस्तान समर्थक आतंकवादी संगठनों द्वारा प्रस्‍तावित विरोध प्रदर्शन से पहले चिंता व्यक्त करने के लिए विदेश मंत्रालय ने मैके को सोमवार को तलब किया था।

इस बीच, कनाडा ने पोस्टरों के प्रसार के बाद देश में भारतीय राजनयिकों की सुरक्षा के प्रति अपनी प्रतिबद्धता दोहराई है। कनाडाई सरकार ने पोस्टरों को "अस्वीकार्य" बताया है और भारतीय राजनयिकों की सुरक्षा के लिए कार्रवाई का संकल्‍प जताया। 


एक ट्वीट में, कनाडाई विदेश मंत्री मेलानी जॉय ने कहा, "कनाडा राजनयिकों की सुरक्षा के संबंध में वियना कन्वेंशन के तहत अपने दायित्वों को बहुत गंभीरता से लेता है। 8 जुलाई विरोध प्रदर्शन की योजना के संबंध में ऑनलाइन प्रसारित कुछ प्रचार सामग्री के मद्देनजर कनाडा भारतीय अधिकारियों के साथ निकट संपर्क में है।"  उन्होंने कहा, "हम जानते हैं कि कुछ लोगों की हरकतें पूरे समुदाय या कनाडा के बारे में नहीं सही नही हैं ।"

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने सोमवार को कहा था कि कनाडा में खालिस्तानी तत्वों द्वारा पोस्टरों पर भारतीय राजनयिकों के नाम दिखाए जाने का मुद्दा कनाडा और अन्य देशों की सरकारों के साथ उठाया जाएगा, क्योंकि इससे संबंधों पर असर पड़ सकता है।


जयशंकर ने कहा था, "हमने कनाडा, संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया जैसे अपने साझेदार देशों से खालिस्तानियों को जगह नहीं देने का अनुरोध किया है। इससे हमारे संबंधों पर असर पड़ेगा। हम इस पोस्टर मुद्दे को इन देशों की सरकारों के सामने उठाएंगे।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;