रूस-यूक्रेन युद्ध से खड़ी हुई बड़ी शरणार्थी समस्या, अकेले पोलैंड के लिए दस लाख से अधिक यूक्रेनी हुए रवाना

दोनों देशों में जारी युद्ध के बीच यूक्रेन के बॉर्डर गार्ड ने रविवार देर रात एक ट्वीट में कहा कि आज रात 8 बजे तक यूक्रेन से पोलैंड भाग जाने वाले लोगों की संख्या दस लाख से अधिक हो गई है। युद्ध के दौरान एक लाख से ज्यादा लोग अपने घरों से भगा दिए गए।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद दोनों देशों में छिड़ी जंग के कारण एक बड़ी शरणार्थी समस्या खड़ी हो रही है। दोनों देशों में 12 दिन पहले युद्ध शुरू होने के बाद से देश छोड़कर अकेले पड़ोसी देश पोलैंड जाने वाले यूक्रेनी शरणार्थियों की संख्या दस लाख से अधिक हो गई है।

युद्ध के बीच यूक्रेन के बॉर्डर गार्ड ने रविवार देर रात एक ट्वीट में कहा, "आज रात 8 बजे तक यूक्रेन से पोलैंड भाग जाने वाले लोगों की संख्या दस लाख से अधिक हो गई है। युद्ध के दौरान एक लाख से ज्यादा लोग अपने घरों से भगा दिए गए।" इसमें कहा गया कि सीमा पार करने के बाद लाखों लोगों ने सीमा रक्षक कर्मियों से सुना कि 'आप सुरक्षित हैं'।


रविवार को, शरणार्थियों के लिए संयुक्त राष्ट्र के उच्चायुक्त फिलिपो ग्रांडी ने कहा कि 24 फरवरी को रूस के सैन्य आक्रमण शुरू होने के बाद से 1.5 मिलियन से अधिक लोग यूक्रेन से पड़ोसी देशों में भाग गए थे। यूरोपीय संघ ने सामान्य रूप से आवश्यक लंबी शरण प्रक्रियाओं के बिना यूक्रेनी शरणार्थियों की रक्षा के लिए एक अस्थायी सुरक्षा निर्देश तंत्र को मंजूरी दी है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia