फिलीपींस की सत्ता में मार्कोस परिवार की हुई वापसी, फर्डिनेंड मार्कोस जूनियर बने नए राष्ट्रपति

फिलीपींस के दिवंगत नेता फर्डिनेंड मार्कोस के बेटे फर्डिनेंड मार्कोस जूनियर ने आज देश के 19वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ लिया। वह निवर्तमान राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते की जगह लेंगे। उन्होंने मई में राष्ट्रपति चुनाव में 60 फिसदी मतों के साथ जीत दर्ज की थी।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

फिलीपींस की सत्ता में मार्कोस परिवार की वापसी हुई है और इसी के साथ दुर्तेते युग समाप्त हो गया है। फिलीपींस के दिवंगत नेता फर्डिनेंड मार्कोस के बेटे फर्डिनेंड मार्कोस जूनियर ने आज देश के 19वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ लिया। वह निवर्तमान राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते की जगह लेंगे। मार्कोस जूनियर ने मई में राष्ट्रपति चुनाव में प्रतिद्वंद्वी मारिया लियोनोर रोब्रेडो पर 60 प्रतिशत मतों के साथ जीत हासिल किया था।

रोड्रिगो दुतेर्ते की 43 वर्षीय बेटी सारा दुतेर्ते-कार्पियो विडे प्रेसीडेंट के रूप में शपथ लेंगी। शपथ ग्रहण समारोह दोपहर में मनीला के राष्ट्रीय संग्रहालय में हुआ। इस कार्यक्रम के लिए सैकड़ों स्थानीय और विदेशी गणमान्य व्यक्तियों ने भाग लिया। समारोह की सुरक्षा के लिए लगभग 15,000 सुरक्षा कर्मियों को फिलीपींस की राजधानी में तैनात किया गया था।


मार्कोस जूनियर की जीत मार्कोस राजनीतिक राजवंश के लिए एक आश्चर्यजनक वापसी का प्रतीक है, जिसे 1986 में एक लोकप्रिय विद्रोह के बाद सत्ता से हटा दिया गया था। फर्डिनेंड मार्कोस ने 1965 से 1986 तक देश का नेतृत्व किया, जिसे मार्शल लॉ लगाने और व्यापक मानवाधिकारों के हनन, भ्रष्टाचार और गरीबी की अवधि के तौर पर जाना जाता है ।

साल 1986 में जब एक बड़े पैमाने पर विद्रोह ने लाखों लोगों को सड़कों पर उतरते देखा तो मार्कोस परिवार देश छोड़कर भाग गया। लंबे समय तक राजनेता रहे मार्कोस जूनियर 1991 में फिलीपींस लौटे थे। इस बीच, आलोचकों ने आरोप लगाया कि उनका सोशल मीडिया अभियान गलत सूचनाओं से भरा हुआ था, जबकि उनके पिता के शासन में अत्याचारों को मिटा दिया गया था। उन्होंने इन आरोपों का खंडन किया है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;