लिव-इन पार्टनर से मारपीट करने बाद बुलाना पड़ा था वापस, अब फिर से UN में पाकिस्तान का स्थायी प्रतिनिधि बना यह शख्स

अमेरिका से वापस पाकिस्तान लौटने के बाद इमरान खान ने यूएन में अपनी स्थायी सदस्य मलीहा लोधी को हटा दिया है। मलीहा की जगह पाकिस्तान ने मुनीर अकरम को अपना नया स्थायी सदस्य बनाया है। मुनीर अकरम पहले भी इस पद रह चुके हैं। अब 15 साल बाद एक बार फिर वो इस पद को संभालने वाले हैं।

फोटो:  सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

संयुक्त राष्ट्र में मुंह की खाने के बाद बौखलाए पाकिस्तान ने यूएन में अपने स्थायी सदस्य मलीहा लोधी को हटा दिया है। उनकी जगह पाकिस्तान ने मुनीर अकरम को अपना नया स्थायी सदस्य बनाया है। मुनीर अकरम पहले भी इस पद रह चुके हैं। अब 15 साल बाद एक बार फिर वो इस पद को संभालने वाले हैं।

मुनीर अकरम इससे पहले 2002 से 2008 के बीच इस पद पर तैनात थे। इस दौरान उन्होंने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष के रूप में दो कार्यकाल भी संभाले थे। उनका जन्म 14 फरवरी, 1945 को कराची में हुआ था। 74 साल के पाकिस्तानी राजदूत ने कराची विश्वविद्यालय से परास्नातक की पढ़ाई की है।


मुनीर अकरम कई बार दूसरे कारणों से भी चर्चा में रह चुके हैं। 2003 में उन पर घरेलू हिंसा का मामला दर्ज किया गया था। जिसके बाद पाकिस्तान को मजबूरन उन्हें वापस बुलाना पड़ा था।शिकायत के अनुसार उन्होंने कथित तौर पर अपनी लिव-इन पार्टनर मरीजाना मिहिक की पिटाई की थी। पाकिस्तान के लिए परिस्थिति इतनी गंभीर हो गई थी अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान से उन्हें मिला राजनयिक संरक्षण वापस लेने के लिए कहा था ताकि उनपर मारपीट का मुकदमा चलाया जा सके।

हालांकि, यह मामला कोर्ट के बाहर ही सुलझ गया था और उनके खिलाफ चर रहे चांज को भी बंद कर दिया गया था। इमरान खान सरकार को उम्मीद है कि लोग इस मामले को भूल चुके हैं इसी कारण उन्हें वापस यूएन भेजा गया है। मुनीर भारत के खिलाफ जहर उगलने के लिए मशहूर हैं। वो पाकिस्तान के अखबार डॉन के लिए लेख भी लिखते हैं। इतना ही नहीं वो कश्मीर पर आक्रामक छवि रखते हैं और कश्मीरियों को हथियार उठाने के लिए भड़काते रहते हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 01 Oct 2019, 3:51 PM