दुनिया

न्यूजीलैंड: क्राइस्टचर्च की मस्जिदों में हमले के बाद सरकार का फैसला, सेमी-ऑटोमेटिक हथियारों पर लगाया प्रतिबंध

न्यूजीलैंड में सभी उच्च क्षमता वाले मैगजीनों के अलावा एमएसएसए बना सकने वाले बंदूकों के सभी कलपुर्जो पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। प्रधानमंत्री अर्डर्न ने भरोसा जताया कि न्यूजीलैंड की बड़ी आबादी इस बदलाव का समर्थन करेगी।

फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिका अर्डर्न ने गुरुवार को देश में हथियारों से जुड़ी एक महत्वपूर्ण घोषणा की। उन्होंने कहा कि देश में सैन्य शैली की सेमी-ऑटोमेटिक हथियारों और असॉल्ट राइफलों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

इससे एक हफ्ते पहले यहां की दो मस्जिदों पर एक आस्ट्रेलियाई व्यक्ति द्वारा किए गए हमले में 50 लोगों की मौत हो गई थी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, न्यूजीलैंड सरकार ने ऐसे कई सामग्रियों पर भी प्रतिबंध लगा दिया है जो निम्न क्षमता के सेमी-ऑटोमेटिक हथियारों के निर्माण में सक्षम है और जिससे नरसंहार किया जा सकता है।

सभी उच्च क्षमता वाले मैगजीनों के अलावा एमएसएसए बना सकने वाले बंदूकों के सभी कलपुर्जो पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। प्रधानमंत्री अर्डर्न ने भरोसा जताया कि न्यूजीलैंड की बड़ी आबादी इस बदलाव का समर्थन करेगी। प्रतिबंध स्थानीय समयनुसार अपरान्ह तीन बजे लगाया गया।

विपक्षी नेशनल पार्टी ने एमएसएसए हथियारों पर प्रतिबंध की प्रशंसा की है। नेता सिमोन ब्रिज ने इस बात से सहमति जताई कि लोगों को सैन्य शैली की ऑटोमेटिक हथियारों का इस्तेमाल करने की कोई जरूरत नहीं है।

समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के मुताबिक, सरकार सोशल मीडिया पर नफरत से जुड़े संदेशों को रोकने के लिए भी कदम उठाएगी।

लोकप्रिय