दुनिया की 5 बड़ी खबरें: न्यूजीलैंड में ISIS ने 6 लोगों को मारा चाकू और फिलीपींस ने इन 9 देशों में हटाया यात्रा प्रतिबंध

न्यूजीलैंड के ऑकलैंड सुपरमार्केट में शुक्रवार को एक हमलावर ने 6 लोगों को चाकू मार दिया और फिलीपींस ने कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच भारत और नौ अन्य देशों पर यात्रा प्रतिबंध लगाया था, जिसे अब 6 सितंबर से हटा दिया जाएगा।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

न्यूजीलैंड में ISIS के जिहादी ने 6 लोगों को मारा चाकू

न्यूजीलैंड के ऑकलैंड सुपरमार्केट में शुक्रवार को एक हमलावर ने 6 लोगों को चाकू मार दिया। पुलिस ने हमलावर को मौके पर ही मार गिराया है। न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने इसे आतंकी हमला करार दिया है। उन्होंने कहा कि हमलावार आतंकवादी संगठन ISIS से प्रेरित था। पुलिस ने बताया कि ऑकलैंड के एक सुपरमार्केट में दोपहर करीब 2 बजकर 40 मिनट पर यह हमला हुआ। पुलिस इस व्यक्ति की लगातार निगरानी कर रही थी, जिसके चलते पुलिस टीम और विशेष रणनीति समूह ने हमला शुरू होने के 60 सेकंड के भीतर इस हमलावार को गोली मार दी, जिससे उसकी मौत हो गई। प्रधानमंत्री अर्डर्न ने कहा कि हमलावर श्रीलंकाई नागरिक था, जो इस्लामिक स्टेट समूह के प्रभाव में था। उन्होंने बताया कि वह देश की सुरक्षा एजेंसियों की रडार पर था और उसकी चौबीसों घंटे निगरानी की जा रही थी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

3 फिलिस्तीनी गाजा, मिस्र के बीच सीमा के नीचे सुरंग में मृत पाए गए

गाजा पट्टी और मिस्र के बीच सीमा रेखा क्षेत्र के नीचे एक तस्करी सुरंग के अंदर तीन फिलिस्तीनी लोग मृत पाए गए, चिकित्सकों और एक सुरक्षा अधिकारी ने यह जानकारी दी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, पैरामेडिक्स ने कहा कि उन्हें सूचित किया गया था कि तस्करी सुरंग में काम करने वाले तीन कर्मचारी गुरुवार सुबह से लापता हैं। हमास द्वारा संचालित गृह मंत्रालय के प्रवक्ता इयाद अल-बोज्जम ने शुक्रवार को एक प्रेस बयान में कहा, पैरामेडिक्स और बचाव दल ने सुरंग से तीन शवों को निकाल लिया है और अस्पताल भेज दिया है। हमास सहित फिलिस्तीनी गुटों ने मिस्र के अधिकारियों से तीन श्रमिकों की मौत के कारणों की जांच करने का आह्वान किया और कहा कि वे उनकी मौत के लिए मिस्र को जिम्मेदार मानते हैं। हमास द्वारा तटीय एन्क्लेव पर कब्जा करने और 2007 में फिलिस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास के सुरक्षा बलों को बाहर करने के बाद इजरायल ने गाजा पट्टी पर एक कड़ी नाकाबंदी की। नाकाबंदी को टालने के लिए, फिलिस्तीनियों ने निर्माण, उद्योग और कृषि के लिए ईंधन, भोजन, दवा और कच्चे माल की आपूर्ति प्राप्त करने के लिए मिस्र के साथ सीमाओं के नीचे सैकड़ों सुरंगें खोदीं। 2013 में, मिस्र की सेना ने एक सैन्य अभियान शुरू किया जिसने सुरंगों को लक्षित किया, उनमें से 95 प्रतिशत से अधिक को नष्ट कर दिया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

फिलीपींस भारत, 9 अन्य देशों से यात्रा प्रतिबंध हटाएगा

फिलीपींस भारत और नौ अन्य देशों से आने वाले सभी यात्रियों के लिए यात्रा प्रतिबंध 6 सितंबर से हटा देगा, हालांकि अत्यधिक संक्रामक डेल्टा वैरिएंट से बढ़े हुए कोविड -19 मामले होने के बाद भी उन्होंने यह कदम उठाया है। इसकी जानकारी राष्ट्रपति के प्रवक्ता हैरी रोके ने शनिवार को दी। सिन्हुआ समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ने भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश, श्रीलंका, नेपाल, संयुक्त अरब अमीरात, ओमान, थाईलैंड, मलेशिया और इंडोनेशिया पर मौजूदा यात्रा प्रतिबंधों को हटाने के लिए इंटर-एजेंसी कोविड -19 टास्क फोर्स की सिफारिश को मंजूरी दे दी है। रोके ने एक बयान में कहा, "उपरोक्त देशों से आने वाले अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों को उचित प्रवेश, परीक्षण और क्वारंटीन प्रोटोकॉल का पालन करना होगा।" हालांकि, राजनयिकों और फिलिपिनो नागरिकों के विदेशी जीवनसाथी जैसे विशेष वीजा धारकों को छोड़कर विदेशी पर्यटकों के देश में प्रवेश पर अभी भी प्रतिबंध है। डेल्टा वैरिएंट का स्थानीय प्रसारण फिलीपींस में समुदायों में फैल गया है। देश ने अब तक 1,789 डेल्टा मामलों और 33 मौतों का पता लगाया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

पंजशीर घाटी में लड़ाई की सूचना, विद्रोही गुट ने कहा, नहीं करेंगे आत्मसमर्पण

अफगानिस्तान की पंजशीर घाटी में ताजा लड़ाई की खबर है, जो अभी भी तालिबान के हाथों से बाहर है। बीबीसी की एक हालिया रिपोर्ट में यह दावा किया गया है। घाटी में विद्रोही गुट के नेताओं में से एक, अमरुल्ला सालेह ने उन रिपोटरें को खारिज कर दिया, जिनमें कहा जा रहा था कि तालिबान ने इस क्षेत्र पर कब्जा कर लिया है। लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि तालिबान की ओर से फोन, इंटरनेट और बिजली लाइनों को बंद करने से स्थितियां कठिन हैं। बीबीसी को भेजे गए एक वीडियो संदेश में, अफगानिस्तान के पूर्व उपराष्ट्रपति सालेह ने कहा कि दोनों पक्षों में हताहत हुए हैं। उन्होंने कहा, इसमें कोई संदेह नहीं है कि हम एक मुश्किल स्थिति में हैं। हम पर तालिबान का हमला हुआ है। उन्होंने कहा कि उनकी सेना आत्मसमर्पण नहीं करेगी। लेकिन प्रतिरोध के नेताओं ने माना कि कुछ जिले तालिबान के हाथ में आ गए हैं, जबकि तालिबान समर्थक सोशल मीडिया ने इसके लड़ाकों को कब्जा किए गए टैंक और अन्य हथियारों के साथ एक क्लिप में दिखाया गया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

काबुल में अमेरिकी निकासी के बाद एयरपोर्ट पर उतरा पहला विमान

खाद्य सामग्री से लदा संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) का एक विमान काबुल के हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर उतरा, जो 31 अगस्त को अमेरिका की वापसी के बाद अफगानिस्तान की राजधानी पहुंचने वाली पहली उड़ान है। तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने शुक्रवार को कहा, "संयुक्त अरब अमीरात का एक विशाल विमान 60 टन भोजन लेकर आज काबुल हवाईअड्डे पर उतरा।" समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, मुजाहिद ने कहा, "यूएई द्वारा प्रदान की गई खाद्य सहायता का आगमन अफगानों के लिए अच्छी खबर है। हम अफगानों के समर्थन के लिए यूएई के के आभारी हैं।" उन्होंने कहा, "इस्लामिक अमीरात सभी देशों से अफगानिस्तान को अपना समर्थन देना जारी रखने का आग्रह करता है।" 15 अगस्त को तालिबान द्वारा काबुल पर कब्जा किए जाने के बाद से यह हवाईअड्डा अंतर्राष्ट्रीय और घरेलू उड़ानों के लिए बंद है। अमेरिकी नेतृत्व वाली निकासी उड़ानें समाप्त होने के बाद तालिबान बलों ने 31 अगस्त को हवाई अड्डे पर नियंत्रण कर लिया।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia