युद्ध का खतरा: उत्तर कोरिया ने पूर्वी सागर में दागी 2 मिसाइलें, दक्षिण कोरिया और जापान के साथ बैठक करेगा अमेरिका

उत्तर कोरिया ने गुरुवार को पूर्वी सागर में दो कम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल दागी, दक्षिण कोरिया के जॉइंट चीफ ऑफ स्टाफ (जेसीएस) ने पुष्टि की।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर कोरिया ने गुरुवार को पूर्वी सागर में दो कम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल दागी, दक्षिण कोरिया के जॉइंट चीफ ऑफ स्टाफ (जेसीएस) ने पुष्टि की। समाचार एजेंसी योनहाप के मुताबिक, एक बयान में, जेसीएस ने कहा कि मिसाइलों को दक्षिण हमग्योंग प्रांत में उत्तर के हामजू शहर से सुबह 7.06 बजे और 7.25 बजे दागा गया और इसने 60 किलोमीटर की ऊंचाई के साथ लगभग 450 किलोमीटर तक उड़ान भरी।

बयान में एक जेसीएस अधिकारी के हवाले से कहा गया, "दक्षिण कोरियाई और एसएस खुफिया अधिकारी विस्तार से प्रोजेक्टाइल का विश्लेषण कर रहे हैं, संभावना है कि वे कम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल हो सकते हैं।" आखिरी बार उत्तर कोरिया ने मार्च 2020 में एक बैलिस्टिक मिसाइल दागी थी।


जेसीएस के बयान में कहा गया कि संबंधित कदमों की बारीकी से निगरानी की जा रही है।
दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति कार्यालय चेओंग वा डे ने एक आपातकालीन सुरक्षा बैठक बुलाई।
योनहाप की रिपोर्ट में कहा गया है कि उत्तर कोरिया ने रविवार को पीले सागर में दो क्रूज मिसाइल दागे, जिसके चार दिन बाद गुरुवार कम दूरी की दो बैलिस्टिक मिसाइलें दागी।

मिसाइल लॉन्च के बाद, अमेरिकी फोर्सेज कोरिया के प्रवक्ता, कर्नल ली पीटर्स ने कहा कि यह गतिविधि इस खतरे को उजागर करती है कि उत्तर कोरिया का अवैध हथियार कार्यक्रम उसके पड़ोसियों और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के लिए है।

अगले हफ्ते उत्तर कोरिया से जुड़े मुद्दों पर चर्चा के लिए अमेरिका दक्षिण कोरिया और जापान के साथ बैठक करेगा।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia