पाकिस्तान के लिए परमाणु हथियार बनाने वाले वैज्ञानिक अब्दुल कादिर खान का निधन, भारत के इस शहर में हुआ था उनका जन्म

पाकिस्तान के परमाणु वैज्ञानिक अब्दुल कदीर खान की शनिवार रात तबीयत बिगड़ी थी। उन्हें रविवार सुबह 6 बजे एंबुलेंस से अस्पताल लाया गया। उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पाकिस्तान के मशहूर परमाणु वैज्ञानिक डॉ. अब्दुल कादिर खान का 85 साल की उम्र में निधन हो गया है। डॉ. अब्दुल कादिर खान को पाकिस्तान के परमाणु कार्यक्रम का जनक माना जाता है। पाकिस्तान को मुस्लिम वर्ल्ड में पहला परमाणु हथियार संपन्न देश बनाने में उनका सबसे बड़ा योगदान है

बताया जा रहा है कि अब्दुल कदीर खान की शनिवार रात तबीयत बिगड़ी थी। उन्हें रविवार सुबह 6 बजे एंबुलेंस से अस्पताल लाया गया। उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल में उनकी हालत और बिगड़ती चली गई। डॉक्टरों ने उनकी जान बचाने की पूरी कोशिश की, लेकिन उन्हें सफलता हासिल नहीं मिली। स्थानीय समय के अनुसार, सुबह 7:04 बजे उनका निधन हो गया। डॉक्टरों ने बताया कि अब्दुल कादिर का निधन फेफड़ों के काम नहीं करने की वजह से हुआ। पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख रशीद ने कहा कि डॉ. खान की जान बचाने की कोशिश की गई। उनको इस्लामाबाद के एक कब्रिस्तान में दफनाया जाएगा।


डॉ. अब्दुल कादिर खान का जन्म भारत के भोपाल शहर में साल 1936 में हुआ था। भारत-पाकिस्तान के बंटवारे के बाद वह अपने परिवार के साथ पाकिस्तान चले गए। डॉ. खान ने अपनी शुरुआती शिक्षा कराची के डीजे साइंस कॉलेज से हासिल की। इसके बाद वह 1961 में हायर स्टडीज के लिए यूरोप गए और जर्मनी और हॉलैंड के विश्वविद्यालयों से पीएचडी की।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 10 Oct 2021, 12:13 PM