पाक सेना प्रमुख बोले- भारत राजी हुआ तो कश्मीर पर आगे बढ़ने को तैयार, जानें भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर क्या कहा?

पाकिस्तान के थल सेनाध्यक्ष (सीओएएस) जनरल कमर जावेद बाजवा ने कहा कि अगर भारत सहमत होता है तो उनका देश कश्मीर मामले पर आगे बढ़ने के लिए तैयार है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

पाकिस्तान के थल सेनाध्यक्ष (सीओएएस) जनरल कमर जावेद बाजवा ने कहा कि अगर भारत सहमत होता है तो उनका देश कश्मीर मामले पर आगे बढ़ने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा, "पाकिस्तान कश्मीर विवाद सहित सभी लंबित मुद्दों को सुलझाने के लिए बातचीत और कूटनीति के इस्तेमाल में विश्वास रखता है और अगर भारत भी ऐसा करने के लिए सहमत होता है तो वह इस मोर्चे पर आगे बढ़ने के लिए तैयार है।"

उन्होंने पिछले साल इस्लामाबाद सुरक्षा वार्ता में भी इसी तरह की टिप्पणी की थी जब उन्होंने कहा था कि यह दोनों देशों के लिए 'अतीत को दफनाने और आगे बढ़ने' का समय है।

डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, जनरल बाजवा ने क्षेत्र से संघर्ष को दूर रखने के महत्व पर प्रकाश डाला, उन्होंने कहा कि पाकिस्तान चाहता है कि भारत-चीन सीमा का समाधान कूटनीति और बातचीत के जरिए भी जल्द हो।


उन्होंने कहा, "मेरा मानना है कि क्षेत्र के राजनीतिक नेतृत्व के लिए अपने भावनात्मक और धारणात्मक पूर्वाग्रहों से ऊपर उठने और क्षेत्र के लगभग तीन अरब लोगों के लिए शांति और समृद्धि लाने के लिए इतिहास की बेड़ियों को तोड़ने का समय है।

सीओएएस ने कहा, "पाकिस्तान मानता है कि क्षेत्र विकसित होते हैं, न कि देश। यही कारण है कि हम मानते हैं कि हमारे व्यापक क्षेत्र में शांति और स्थिरता साझा क्षेत्रीय समृद्धि और विकास प्राप्त करने के लिए आवश्यक शर्तें हैं। इस संबंध में, हमारे सभी पड़ोसियों के लिए हमारे दरवाजे खुले हैं।"


अपने भाषण के दौरान, जनरल बाजवा ने 9 मार्च को पाकिस्तान में भारत की आकस्मिक मिसाइल लॉन्चिंग को 'गंभीर चिंता' का विषय बताते हुए कहा, "हम उम्मीद करते हैं कि भारत पाकिस्तान और दुनिया को आश्वस्त करने के लिए सबूत प्रदान करेगा कि उनके हथियार सुरक्षित हैं।"

उन्होंने कहा, "रणनीतिक हथियार प्रणालियों से जुड़ी अन्य घटनाओं के विपरीत, यह इतिहास में पहली बार है कि एक परमाणु-सशस्त्र राष्ट्र से एक सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल दूसरे में उतरी है।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 02 Apr 2022, 4:35 PM