इमरान की गिरफ्तारी पर हाईकोर्ट ने पुलिस प्रमुख और गृह सचिव को किया तलब, कहा- ये अदालत पर हमला नहीं तो क्या?

इमरान खान आज अपने खिलाफ दर्ज कई मामलों में जमानत लेने हाईकोर्ट पहुंचे थे और तभी पाक रेंजर्स ने कोर्ट में घुसकर उन्हें जबरन गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान उनके साथ उनके वकीलों और समर्थकों के साथ मरपीट के भी आरोप लगे हैं।

इमरान की गिरफ्तारी पर इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने पुलिस प्रमुख और गृह सचिव को तलब कर फटकार लगाई
इमरान की गिरफ्तारी पर इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने पुलिस प्रमुख और गृह सचिव को तलब कर फटकार लगाई
user

नवजीवन डेस्क

पाकिस्तान में इस्लामाबाद हाईकोर्ट से पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की गिरफ्तारी पर बवाल हो गया है। इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने मामले में पुलिस प्रमुख और गृह सचिव को कोर्ट में तलब कर कड़ी फटकार लगाई है। चीफ जस्टिस ने कोर्ट रूम में पाक रेंजर्स की कार्रवाई को न्यायपालिका की स्वतंत्रता और खुद पर हमला करार देते हुए अधिकारियों को यह साबित करने के लिए कहा है कि इमरान की गिरफ्तारी कानूनी है।

इमरान खान आज अपने खिलाफ दर्ज कई मामलों में जमानत लेने हाईकोर्ट पहुंचे थे और तभी पाक रेंजर्स ने कोर्ट में घुसकर उन्हें जबरन गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान उनके साथ उनके वकीलों और समर्थकों के साथ मरपीट के भी आरोप लगे हैं। इस घटना के बाद इस्लामाबाद हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस आमेर फारूक ने मामले का संज्ञान लेते हुए इस्लामाबाद के पुलिस प्रमुख और गृह सचिव के साथ अतिरिक्त अटॉर्नी जनरल को 15 मिनट के भीतर कोर्ट में तलब किया।

इस्लामाबाद के महाधिवक्ता ने जस्टिस फारूक से अनुरोध किया कि अदालत इस मामले की सुनवाई को कल तक के लिए टाल दे. हालांकि, उन्होंने महाधिवक्ता के अनुरोध को मानने से इनकार कर दिया. चीफ जस्टिस ने कहा कि वो जानना चाहते हैं कि आज कोर्ट में क्या हुआ

चीफ जस्टिस के समन पर इस्लामाबाद पुलिस प्रमुख, गृह सचिव और अतिरिक्त अटॉर्नी जनरल करीब 45 मिनट के बाद कोर्ट में पहुंचे जिस पर चीफ जस्टिस भड़क गए। सुनवाई शुरू होने के बाद चीफ जस्टिस ने गुस्से में कहा कि हम जानना चाहते हैं कि आज कोर्ट में क्या हुआ और हमें बताएं कि गिरफ्तारी किस मामले में की गई है?


इस पर इस्लामाबाद के पुलिस प्रमुख आईजी ने जवाब दिया कि उन्हें इमरान की गिरफ्तारी के बारे में मीडिया से पता चला। उन्होंने अदालत में इमरान खान की गिरफ्तारी का वारंट पेश करते हुए जज से कहा कि उन्हें भ्रष्टाचार से जुड़े एक मामले में गिरफ्तार किया गया है। इस पर जज ने कहा कि जहां तक मुझे पता है उसके मुताबिक, इमरान को एनएबी ने गिरफ्तार नहीं किया है। अगर गिरफ्तारी कानून का उल्लंघन है तो मैं उचित आदेश जारी करूंगा।

इसके बाद इमरान खान के वकील बैरिस्टर गौहर खान ने कहा कि जब पाक रेंजर्स इमरान खान को ले गए तब वो उनके साथ थे। उन्होंने कहा कि रेंजर्स पीटीआई प्रमुख को बायोमेट्रिक रूम में घुसने से पहले ही गिरफ्तार करने की कोशिश कर रहे थे। रेंजर्स ने इमरान को गिरफ्तार करने के लिए कमरे की खिड़कियों को तोड़ दिया और मिर्च स्प्रे का इस्तेमाल किया।

गौहर ने अदालत को बताया कि रेंजर्स ने इमरान खान को रॉड से मारा। उन्होंने इमरान के घायल पैर पर भी हमला किया। उन्होंने न्यायिक स्वतंत्रता और मौलिक अधिकारों का उल्लंघन किया है। वहीं, पीटीआई के वकील ख्वाजा हारिस ने कहा कि न्याय हर नागरिक का अधिकार है। आज की गिरफ्तारी न्यायिक स्वतंत्रता पर हमले से कम नहीं है। हारिस ने कहा कि जब जांच चल रही तो कानून एनएबी को इस बात का अधिकार नहीं देता को वो संबंधित व्यक्ति को गिरफ्तार करे।

सुनवाई के दौरान जस्टिस फारूक काफी गुस्से में दिखाई दिए और उन्होंने कहा कि अदालत ने पूरे मामले पर संयम रखा है और इसके धैर्य की परीक्षा न ली जाए। कोर्ट परिसर से इमरान खान की गिरफ्तारी पर भड़कते हुए उन्होंने कहा कि क्या यह न्यायिक स्वतंत्रता पर हमला नहीं है? क्या यह गिरफ्तारी अवैध नहीं है? वकीलों पर हमला किया गया है, मेरी अदालत पर हमला किया गया है, मुझ पर हमला किया गया है।


इस बीच इमरान की गिरफ्तारी पर पूरे पाकिस्तान में बवाल मचा हुआ है। इमरान के समर्थक और पार्टी के कार्यकर्ता सड़कों पर उतरे हुए हैं। इस बीच हाईकोर्ट में गिरफ्तारी के खिलाफ उनके समर्थकों ने बवाल कर दिया है। देश के कई शहरों में समर्थक सड़कों पर उतर आए हैं और आगजनी और हंगामा कर रहे हैं। इस्लामाबाद में कई जगह आगजनी की खबरे हैं। लाहौर में भी समर्थक हंगामा कर रहे हैं। सिंध में समर्थकों पर आंसूगैस के गोले दागे हैं। पाकिस्तान के दूसरे कई शहरों से भी हिंसा की खबरें हैं।

इससे पहले आज एक हाई वोल्टेज ड्रामा में इस्लामाबाद हाईकोर्ट में पेशी के लिए इमरान खान को पाकिस्तान रेंजर्स ने कोर्ट में घुसकर गिरफ्तार कर लिया। घटना के वायरल वीडियो में दिख रहा है कि रेंजर्स कटघरा बॉक्स के शीशे तोड़कर इमरान को हिरासत में ले रहे हैं। बाद में पाक रेंजर्स धकियाते हुए इमरान को कोर्ट के बाहर लाकर अपनी गाड़ी में बैठाते देखे गए। इमरान की पार्टी पीटीआई ने आरोप लगाया है कि पाक रेंजर्स इमराऩ खान को कोर्ट रूम के अंदर से घसीटकर और मारते-पीटते अपने साथ ले गए।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */