'दिवालिया हो गया है पाकिस्तान', पाक के पूर्व राजस्व प्रमुख ने खोले कई राज, कहा- लोगों से झूठ बोल रही इमरान सरकार

पाकिस्तान फेडरल बोर्ड ऑफ रेवेन्यू (FBR) के पूर्व चेयरमैन शब्बर जैदी ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि पाकिस्तान दिवालिया हो चुका है। जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, पूर्व एफबीआर प्रमुख जैदी ने विश्वास व्यक्त किया है कि पाकिस्तान दिवालिया हो गया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

पाकिस्तान फेडरल बोर्ड ऑफ रेवेन्यू (एफबीआर) के पूर्व चेयरमैन शब्बर जैदी ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि पाकिस्तान दिवालिया हो चुका है। जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, पूर्व एफबीआर प्रमुख जैदी ने विश्वास व्यक्त किया है कि पाकिस्तान दिवालिया हो गया है, जबकि सरकार का दावा है कि देश बहुत अच्छा कर रहा है, बड़ी सफलता हासिल कर रहा है और बदल रहा है। उन्होंने सरकार की ओर से किए जा रहे ऐसे सभी दावों को खारिज कर दिया है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि दर्शकों के लिए एक संदर्भ बिंदु के रूप में अकाउंटिंग टर्म 'गोइंग कंसर्न' का उपयोग करते हुए, जैदी ने कहा कि उनका मानना है कि देश इस समय दिवालिया हो गया है। जैदी ने कहा कि यह स्वीकार करना फिर भी बेहतर है कि किसी देश की अर्थव्यवस्था दिवालिया हो गई है, ताकि समधान खोजे जा सकें। उन्होंने कहा कि यह दावा करके कि देश अच्छा कर रहा है, लोगों को धोखा देने के बजाय समाधान खोजने के साथ देश को दिवालिया मान लेना ज्यादा अच्छा है।


हालांकि, अपने इस विवादास्पद बयान के बाद जैदी ने ट्वीट करते हुए स्पष्ट किया कि उनके शब्दों को संदर्भ के साथ नहीं देखा गया और गलत तरीके से पेश कर दिया गया है। इस बात से सहमत होते हुए कि उन्होंने कहा था कि दिवालिएपन और चिंता से संबंधित मुद्दे हैं, जैदी ने कहा कि हमें समाधान भी देखना चाहिए।

जैदी ने 10 मई, 2019 से 8 अप्रैल, 2020 तक पाक प्रधानमंत्री इमरान खान की सरकार में एफबीआर चेयरमैन के रूप में कार्य किया था। उन्होंने हाल ही में हमदर्द विश्वविद्यालय में दिए एक भाषण में अपने विचार साझा करते हुए यह विवादास्पद बयान दिया। हालांकि, अब जैदी ने ट्विटर पर उस बयान से संबंधित वीडियो को लेकर सफाई दी है। उन्होंने कहा कि उनके भाषण के तीन मिनट के क्लिप को लेकर ही बात की जा रही है, लेकिन उन्होंने आगे समाधान की बात भी कही है, लेकिन इस पर किसी ने ध्यान नहीं दिया है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 16 Dec 2021, 7:19 PM