दुबई में दबोचा गया महादेव सट्टेबाजी ऐप का मालिक रवि उप्पल, रेड कॉर्नर नोटिस किया गया था जारी, जल्द किया जाएगा डिपोर्ट

भारतीय एजेंसियां दुबई सुरक्षा एजेंसियों के साथ संपर्क बनाए हुए हैं। रवि उप्पल महादेव ऐप मामले के मुख्य आरोपियों में से एक है। उसे जल्द ही डिपोर्ट किया जाएगा।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

ऑनलाइन सट्टेबाजी ऐप महादेव के मामले में भारतीय एजेंसियों ने ऐप के सह संस्थापक रवि उप्पल को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से गिरफ्तार कर लिया गया है। जानकारी के मुताबिक मामले में रवि उप्पल के अलावा दो अन्य लोगों को हिरासत में लिया गया है। इंटरपोल ने रवि उप्पल के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था।

भारतीय एजेंसियां दुबई सुरक्षा एजेंसियों के साथ संपर्क बनाए हुए हैं। रवि उप्पल महादेव ऐप मामले के मुख्य आरोपियों में से एक है। उसे जल्द ही डिपोर्ट किया जाएगा। वहीं, महादेव ऐप के दूसरे प्रमोटर और आरोपी सौरभ चंद्राकर की गिरफ्तारी की कोशिश भी जारी है।

महादेव बुक ऐप सट्टेबाजी के लिए ऑनलाइन प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराता है। इसे भारत में बैन कर दिया गया है। लेकिन अन्य देशों में यह चल रहा है। छत्तीसगढ़ का रहने वाला चंद्राकर और उसका सहयोगी रवि उप्पल दुबई से इसे चलाता है। दोनों के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी किया गया था।

जानकारी के मुताबिक सौरव चंद्राकर पहले रायपुर में एक जूस सेंटर चलाता था। इसके बाद वह सट्टेबाजी में शामिल हुआ। सौरव और रवि के पास 6000 करोड़ से ज्यादा होने का शक है। बड़ी मात्रा में नकदी को हवाला के जरिए दुबई भेजा गया है। एजेंसियों को शक है कि इतने बड़े पैमाने पर महादेव बुक ऐप के दुबई से संचालन में दाऊद इब्राहिम गैंग ने मदद की।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;