इमरान खान ने अपनी पूर्व पत्नी पर लगाए बेहद गंभीर आरोप, कहा- रेहम खान को 2018 में मेरे खिलाफ...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि शरीफ परिवार ने 2018 के आम चुनावों के दौरान उनके खिलाफ एक किताब लिखने के लिए उनकी पूर्व पत्नी रेहम खान के संदर्भ में 'एक महिला को भुगतान किया'।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि शरीफ परिवार ने 2018 के आम चुनावों के दौरान उनके खिलाफ एक किताब लिखने के लिए उनकी पूर्व पत्नी रेहम खान के संदर्भ में 'एक महिला को भुगतान किया'। उन्होंने कहा कि 'माफिया' एक बार फिर अपने चरित्र हनन की तैयारी कर रहा है और ईद के बाद कुछ रिलीज कर सकता है। एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री ने किताब के प्रकाशन के बाद पहली बार अप्रत्यक्ष रूप से किताब का जिक्र किया और वह भी मुल्तान में हुई एक रैली में।

उन्होंने रैली में अपनी पहली पूर्व पत्नी जेमिमा गोल्डस्मिथ के बारे में भी कहा कि उन्हें अदालती मामलों से गुजरना पड़ा और यहूदी लॉबी की सदस्य होने का 'शरीफ माफिया' द्वारा लगाए गए आरोप का सामना करना पड़ा।


रेहम खान ने 2018 के चुनाव से कुछ दिन पहले एक विवादित संस्मरण लिखा था। हालांकि तब यह दावा किया गया था कि इस प्रकाशन का उद्देश्य इमरान की चुनावी संभावनाओं को नुकसान पहुंचाना था, फिर भी वह 2018 में देश के प्रधानमंत्री बने और हाल ही में नेशनल असेंबली में अविश्वास मत के माध्यम से सत्ता से बाहर हो गए।

इमरान ने कहा, "ये वही लोग हैं, जिन्होंने 2018 के चुनावों में मेरे खिलाफ एक किताब लिखने के लिए एक महिला को भुगतान किया। वे ईद के बाद एक बार फिर मेरे चरित्र हनन के लिए जाएंगे। उनके लिए मेरे पास एक संदेश है... मैं उनके खिलाफ तब तक लड़ूंगा जब तक जिंदा हूं।"


अपनी पूर्व पत्नियों के बारे में बात करने के अलावा, इमरान ने मौजूदा प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ पर पंजाब के मुख्यमंत्री के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान सबसे अधिक मुठभेड़ों का आदेश देने का भी आरोप लगाया।

पिछले तीन दशकों से 'माफिया' कैसे काम कर रहे थे, इस पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि वे लोगों को धमकाते हैं और काम करने के लिए दबाव बनाते हैं। हालांकि, उन्होंने कहा कि वह 'माफियाओं' के खिलाफ बोलना जारी रखेंगे।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 30 Apr 2022, 7:00 PM