शहरी क्षेत्र में लड़ने में माहिर सीरियाई लोगों की भर्ती कर रहा है रूस, यूक्रेनियों के मजबूत विरोध ने किया परेशान

रिपोर्ट के अनुसार सीरिया के डीर एज-जोर में रूस ने यूक्रेन युद्ध के लिए देश के स्वयंसेवकों को 200 डॉलर से 300 डॉलर तक की पेशकश की है। दरअसल यूक्रेन के शहरी क्षेत्रों में जबरदस्त विरोध के कारण रूस ने अब सीरियाई लड़ाकों को भर्ती करने का फैसला लिया है।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

यूक्रेन में युद्ध के लिए रूस सीरियाई लोगों की भर्ती कर रहा है, जो शहर के शहरी क्षेत्रों में लड़ना जानते हैं। वॉल स्ट्रीट जर्नल ने चार अमेरिकी अधिकारियों का हवाला देते हुए इसकी सूचना दी है। यह अज्ञात है कि कितने सीरियाई भाड़े के सैनिकों की भर्ती की गई है, लेकिन जर्नल के अनुसार, उनमें से कुछ पहले से ही रूस में हैं और संघर्ष में प्रवेश करने की तैयारी कर रहे हैं।

यूएनआईएएन ने बताया कि रिपोर्ट के अनुसार, सीरिया के डीर एज-जोर में स्थित रूस ने यूक्रेन की यात्रा के लिए देश के स्वयंसेवकों को 200 डॉलर से 300 डॉलर तक की पेशकश की है। दरअसल यूक्रेन के शहरी क्षेत्रों में जबरदस्त विरोध को देखते हुए ही रूस ने अब सीरियाई लड़ाकों को भर्ती करने का फैसला लिया है।


वाशिंगटन में युद्ध अध्ययन संस्थान के एक शोधकर्ता डब्ल्यूएसजे विशेषज्ञ जेनिफर कैफेरेला ने कहा कि सीरियाई आतंकवादियों ने शहरी क्षेत्रों में लड़ाई करते हुए लगभग एक दशक बिताया है, जबकि ज्यादातर रूसी सेना के फौजियों के पास यह कौशल सेट नहीं है।

सेंटर फॉर डिफेंस स्ट्रैटेजीज एंड्री जागोरोडनियुक के बोर्ड के अध्यक्ष के अनुसार, 11 दिनों से भी कम समय में यूक्रेन के सशस्त्र बलों ने मारे गए, घायल और कैदियों सहित 46,000 रूसी सेना के हमलावरों को बेअसर करने में कामयाबी हासिल की।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia