यूक्रेन में नए ठिकानों पर हमला करेगा रूस, पुतिन ने लंबी दूरी की मिसाइलें मिलने की चर्चा पर दी धमकी

रूसी राष्ट्रपति ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा पुष्ट की गई यूएस-निर्मित मल्टीपल-लॉन्च रॉकेट सिस्टम भेजने से कीव की सेना को कुछ भी लाभ की संभावना नहीं है। उन्होंने कहा कि यूक्रेनी सेना के पास पहले से ही रूसी-डिजाइन के ग्रैड, स्मर्च और उरगन सिस्टम हैं।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर यूक्रेन को लंबी दूरी की मिसाइलें पहुंचाई जाती हैं, तो रूस उन ठिकानों को निशाना बनाएगा, जिसे उसने अब तक निशाना नहीं बनाया है। पुतिन ने रूसी मीडिया को एक साक्षात्कार में कहा कि यदि उन्हें आपूर्ति की जाती है, तो हम उचित निष्कर्ष निकालेंगे और अपने हथियारों का उपयोग करेंगे, जो हमारे पास पर्याप्त हैं, उन टारगेट्स पर हमला करेंगे, जहां अभी तक नहीं किया है।"

आरटी के मुताबिक, रूसी राष्ट्रपति ने जिक्र किया कि मंगलवार को राष्ट्रपति जो बाइडेन द्वारा पुष्टि की गई यूएस-निर्मित मल्टीपल-लॉन्च रॉकेट सिस्टम के शिपमेंट से कीव की सेना के लिए कुछ भी नया लाने की संभावना नहीं है। उन्होंने कहा कि यूक्रेनी सेना के पास पहले से ही सोवियत और रूसी-डिजाइन किए गए ग्रैड, स्मर्च और उरगन सिस्टम हैं।


यूक्रेनी संसद के अध्यक्ष रुस्लान स्टेफनचुक ने अपने देश में चल रहे रूसी सैन्य अभियान के बीच जर्मनी की यात्रा के दौरान दावा किया कि बर्लिन कीव को पनडुब्बियां प्रदान कर सकता है। शुक्रवार को जर्मन रक्षा मंत्री क्रिस्टीन लैंब्रेच के साथ बैठक से पहले संसद के प्रमुख ने कहा कि यूक्रेन को सबसे आधुनिक उपकरणों की आपूर्ति और मामले पर त्वरित निर्णय लेने से रूस पर जीत करीब आएगी। स्टेफनचुक ने आशा व्यक्त की कि आईआरआईएस-टी सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल प्रणाली को तुरंत यूक्रेन पहुंचा दिया जाएगा।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia