सऊदी अरब में 12 सेवा-क्षेत्रों में दूसरे देशों के लोग नहीं कर सकेंगे नौकरी, अप्रवासी भारतीयों की बढ़ी मुश्किलें

सऊदी अरब की सरकार द्वारा 12 क्षेत्रों में दूसरे देशों के लोगों के काम करने पर प्रतिबंध लगाए जाने के फैसले से वहां काम कर रहे भारतीयों की परेशानी बढ़ गई है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

सऊदी अरब के श्रम मंत्रालय और सामाजिक विकास मंत्रालय ने एक बड़ा फैसला लेते हुए देश में 12 क्षेत्रों में दूसरे देशों के लोगों के काम करने पर रोक लगा दी है। इस फैसले के बाद सऊदी अरब में काम कर रहे 30 लाख से ज्यादा भारतीय मुश्किल में आ गए हैं। मिली जानकारी के अनुसार, श्रम और सामाजिक विकास विभाग के मंत्री डॉक्टर अली अलगफीस ने पिछले सप्ताह एक आदेश जारी करते हुए उन 12 क्षेत्रों के बारे में बताया, जिनमें अब दूसरे देशों के लोग काम नहीं कर पाएंगे।

सऊदी अरब के लोकप्रिय अखबार सऊदी गैजेट के अनुसार, काम के लिए 12 क्षेत्रों में दूसरे देशों से आने वाले लोगों पर प्रतिबंध लगाया गया है। जिन क्षेत्रों में ये प्रतिबंध लगाया गया है, वे इस तरह हैं- घड़ी की दुकान, चश्मे की दुकान, मेडिकल स्टोर, इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकान, कार स्पेयर पार्ट्स, बिल्डिंग मैटेरियल, कारपेट, ऑटोमोबाइल और बाइक दुकान, होम फर्नीचर और रेडिमेड ऑफिस मैटेरियल, रेडिमेड गार्मेंट, बर्तन की दुकान, केक और पेस्ट्री की दुकान।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
सऊदी सरकार ने कई क्षेत्रों में दूसरे देशों के लोगों के काम करने पर रोक लगाई

मंत्रालय के प्रवक्ता खालिद अबा अल-खील ने स्थानीय मीडिया को बताया कि यह आदेश सेल्स की नौकरियों पर लागू होगा और उसको लागू करने के लिए एक कमेटी बनाई जाएगी। सूत्रों का कहना है कि सऊदी सरकार की ओर से जारी यह आदेश सितंबर 2018 से लागू किया जाएगा।

गौरतलब है कि भारत समेत दुनिया के कई देशों से रोजगार के लिए सऊदी अरब गए लोग, वहां अच्छा वेतन मिलने की वजह से सालों से वहीं बसे हुए हैं। ऐसे लोगों की संख्या लाखों में है। इस वजह से सऊदी अरब के नागरिकों को काम मिलने में मुश्किलें आने लगीं, जिसको देखते हुए सऊदी सरकार ने ये फैसला लिया है। अब इस सूची में शामिल 12 क्षेत्रों में सिर्फ सऊदी नागरिक ही काम कर पाएंगे। ये कदम जहां सऊदी नागरिकों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है, वहीं वहां रह रहे भारतीय इस खबर से परेशान हो रहे हैं। जिन क्षेत्रों में अप्रवासियों के काम करने पर प्रतिबंध लगाया गया है, उनमें काम करने वाले लोगों में भारतीयों की संख्या सबसे ज्यादा है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;