दुनिया की 5 बड़ी खबरें: पाक पीएम इमरान, जेमिमा, बुशरा बीबी और काला जादू! हवाई हमलों में 12 आतंकवादियों की मौत

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की पूर्व पत्नी जेमिमा गोल्डस्मिथ ने एक पोस्टर के साथ कुछ ऐसा ट्वीट किया जिसने इमरान के साथ-साथ उनकी पत्नी बुशरा बीबी को भी चर्चा में ला दिया। अफगानिस्तान के पूर्वी नंगरहार प्रांत में कुल 12 आतंकवादी मारे गए।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

इमरान, जेमिमा, बुशरा बीबी और काला जादू!

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की पूर्व पत्नी जेमिमा गोल्डस्मिथ ने एक पोस्टर के साथ कुछ ऐसा ट्वीट किया जिसने इमरान के साथ-साथ उनकी पत्नी बुशरा बीबी को भी चर्चा में ला दिया। हालांकि, बाद में चर्चा ने जब विवाद का रूप लिया तो जेमिमा ने इस ट्वीट को हटा दिया। जेमिमा ने लाहौर में बनने वाली व्यवसायिक फिल्मों के पोस्टर से मिलता-जुलता एक पोस्टर ट्वीट के साथ साझा किया था जिसमें खुद जेमिमा, इमरान और उनकी वर्तमान पत्नी बुशरा बीबी नजर आ रही थीं। इसमें बुशरा को इस अंदाज में दिखाया गया था जैसे कि वह इमरान पर जादू कर रही हैं। पोस्टर पर उर्दू में लिखा था, "तूने क्या जादू किया!"।

इमरान की पहली पत्नी जेमिमा ने ट्वीट में पोस्टर को साझा कर बताया कि यह पोस्टर उनके एक दोस्त ने लाहौर में देखा। उन्होंने लिखा, "कौन है जो लॉलीवुड के पोस्टर को पसंद नहीं करता। एक दोस्त ने इसे लाहौर में देखा। कैपशन : आपने कैसा काला जादू किया?"

एमएच370 विमान पायलट के आत्मघाती नरसंहार का शिकार हुआ : टोनी एबॉट

आस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री टोनी एबॉट ने दावा किया है कि मलेशियाई एमएच370 को एक आत्मघाती पायलट ने नीचे गिराया था। एमएच 370 कुआलालंपुर से उड़ान भरने के बाद आठ मार्च, 2014 को लापता हो गया। मलेशिया सरकार के सर्वोच्च स्तर के सूत्रों का हवाला देते हुए एबॉट ने स्काई न्यूज से कहा कि अधिकारी प्रारंभ से ही मानते थे कि एमएच370 जेट को इसके पायलट ने जानबूझकर दुर्घटनाग्रस्त किया। एबॉट के हवाले से कहा गया है, "मलेशिया सरकार के शीर्ष स्तर के अधिकारियों का प्रारंभ से मानना था कि यह पायलट द्वारा किया गया मर्डर सुसाइड है।"

अफगानिस्तान : हवाई हमलों में 12 आतंकवादियों की मौत

अफगानिस्तान के पूर्वी नंगरहार प्रांत के मोहमनदारा जिले में तालिबान के ठिकानों पर युद्धक विमानों के हमले में कुल 12 आतंकवादी मारे गए। सेना के एक बयान से बुधवार को यह जानकारी मिली। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने बयान के हवाले से कहा, "मंगलवार को किए गए हवाई हमले में कोई भी सुरक्षाकर्मी और नागरिक नहीं मारा गया।" नंगरहार और पड़ोसी कुनार और नुरिस्तान प्रांत में सक्रिय तालिबनी आतंकवादियों ने अभी तक घटना पर कोई टिप्पणी नहीं की है।

पाकिस्तान ने समझौता एक्सप्रेस बम विस्फोट मामला उठाया

पाकिस्तान ने समझौता एक्सप्रेस ट्रेन बम विस्फोट की बरसी पर मंगलवार को कहा कि इस धमाके के पीड़ित आज भी इनसाफ मिलने का इंतजार कर रहे हैं। पाकिस्तान विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता आयशा फारूकी ने एक बयान में कहा, "तेरह साल पहले, 18 फरवरी को, दिल्ली-लाहौर समझौता एक्सप्रेस में हुए बम विस्फोट में 68 मुसाफिर मारे गए थे। इनमें 40 से अधिक पाकिस्तानी थे। इस वारदात के पीड़ितों को इनसाफ में बेहद विलंब हुआ है। और, यह तब है जब सबूत मौजूद हैं। इससे इस वीभत्स वारदात के दोषियों को सजा दिलाने में भारत सरकार की अनिच्छा का पता चलता है।"

मौलाना ने अब धरना दिया तो धर लिए जाएंगे : पाकिस्तानी मंत्री

अपने विवादित बयानों के लिए विख्यात पाकिस्तान के रेलवे मंत्री शेख रशीद अहमद ने कहा है कि 'अगर इस बार (जमीयते उलेमाए इस्लाम-फजल के प्रमुख) मौलाना फजलुररहमान ने सरकार के खिलाफ धरना दिया तो धर लिए जाएंगे।' उन्होंने कहा कि इमरान सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी। पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, शेख रशीद ने संवाददाताओं से कहा, "मौलाना आजादी मार्च में जो चाहें मुहिम चला लें लेकिन कोई मार्चपास्ट नहीं होने वाला। हल्का-फुल्का संगीत बजेगा लेकिन प्रधानमंत्री इमरान खान अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा करेंगे। अगर मौलाना ने इस बार धरना दिया तो धर लिए जाएंगे।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

लोकप्रिय
next