दुनिया की 5 बड़ी खबरें: वैज्ञानिकों के पास पुख्ता सबूत, इस तरह पैदा हुआ वायरस, पाक में ‘बेहद कड़े’ लॉकडाउन की मांग

अमेरिका का चीन पर आरोप है कि कोरोना वायरस चीन स्थित वूहान की लैब में तैयार किया गया। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के सहयोगी लगातार यह आरोप लगा रहे हैं। पाकिस्तान में चिकित्सकों ने कहा है कि अगले चार हफ्ते देश में कोरोना वायरस महामारी के संदर्भ में बेहद नाजुक होने जा रहे हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

वैज्ञानिकों के पास पुख्ता सबूत, प्राकृतिक रूप से पैदा हुआ वायरस

अमेरिका का चीन पर आरोप है कि कोरोना वायरस चीन स्थित वूहान की लैब में तैयार किया गया। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के सहयोगी लगातार यह आरोप लगा रहे हैं। लेकिन इसके उलट अमेरिका के वैज्ञानिक जोर देकर कह रहे हैं कि यह वायरस प्राकृतिक रूप से पैदा हुआ। इसके लिए वे अपनी रिसर्च का हवाला भी दे रहे हैं। स्टैनफोर्ड मेडिकल स्कूल में संक्रामक रोगों के प्रोफेसर डॉ.रॉबर्ट शेफर ने एबीसी न्यूज को बताया कि यह मानने का कोई कारण नहीं है कि यह वायरस प्रयोगशाला में तैयार किया गया हो। वह कहते हैं कि प्रकृति में कई तरह की चीजें मौजूद होती हैं जो इस प्रकार की महामारी का कारण बन सकती हैं।

इसके साथ ही डॉ. रॉबर्ट गैरी जो कि ट्यूलन स्कूल ऑफ मेडिसिन में प्रोफेसर हैं, वह भी अमेरिका सरकार के दावों को खारिज कर रहे हैं। वे कहते हैं कि ऐसा कोई प्रमाण या संकेत नहीं है कि कोविड-19 जैविक हथियार के तौर पर बनाया गया हो। वह कहते हैं कि एक विशेष तरह का म्यूटेशन इस वायरस को इतना खतरनाक और घातक बना रहा है।

पाकिस्तान में चिकित्सकों ने एक महीने के 'बेहद कड़े' लॉकडाउन की मांग की

पाकिस्तान में चिकित्सकों ने कहा है कि अगले चार हफ्ते देश में कोरोना वायरस महामारी के संदर्भ में बेहद नाजुक होने जा रहे हैं। उन्होंने कहा है कि अभी जो लॉकडाउन चल रहा है, वह लॉकडाउन का मजाक है। इससे काम नहीं चलेगा, देश में अगले एक महीने के लिए बेहद सख्त लॉकडाउन को लागू करने की तुरंत जरूरत है। पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, देश के कुछ वरिष्ठ चिकित्सकों ने प्रेस कांफ्रेंस में यह बात कही। उन्होंने कहा कि अगर सुरक्षात्मक उपाय तत्काल सख्ती से पूरे देश में नहीं लागू किए गए तो 15 मई तक देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 70 हजार तक जा पहुंचेगी। तब देश को नाजुक मरीजों के लिए कम से कम सात हजार वेंटिलेटर की जरूरत होगी लेकिन देश में इसका आधा ही अभी उपलब्ध है।


रेप शब्द के असंवेदनशील इस्तेमाल से निशाने पर आए पाकिस्तानी राष्ट्रपति

पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी के लिए दुष्कर्म (रेप) शब्द का 'असंवेदनशील' इस्तेमाल भारी पड़ गया। सोशल मीडिया पर लोगों ने उन्हें निशाने पर लेते हुए कहा कि इस जघन्य अपराध पर अगर राष्ट्रपति पूरे देश के सामने 'गैरजिम्मेदाराना तरीके से' पेश आ सकते हैं तो फिर और लोगों से भला क्या उम्मीद लगाई जा सकती है। राष्ट्रपति अल्वी ने जियो टीवी पर वरिष्ठ पत्रकार हामिद मीर के एक कार्यक्रम में ऊर्जा कंपनियों के कथित घोटालों की जांच रिपोर्ट के संदर्भ में कहा, "पावर कंपनियों पर जांच रिपोर्ट पढ़कर मैंने प्रधानमंत्री (इमरान खान) से जो कहा, उसमें मेरे एकदम यही शब्द थे, मुझे माफ करें जो मैं कहने जा रहा हूं लेकिन मैंने प्रधानमंत्री खान से कहा कि अगर यह (जांच रिपोर्ट) सही है तो माफिया ने देश से रेप ही नहीं बल्कि गैंग रेप किया है।"

पाकिस्तान : पर्ल की हत्या के आरोपियों को बरी करने के खिलाफ याचिका

पाकिस्तान के सिंध प्रांत की सरकार ने अमेरिकी पत्रकार डेनियल पर्ल की हत्या के मामले सिंध हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। सिंध हाईकोर्ट ने मामले में सबूत के अभाव का हवाला देकर तीन आारोपियों को निचली अदालत से मिली उम्र कैद की सजाओं से बरी करने का फैसला सुनाया था जबकि मुख्य आरोपी अहमद उमर शेख की मौत की सजा को सात साल कैद में बदल दिया था। चूंकि शेख 18 साल से जेल में बंद था, इसलिए उसकी सात साल की सजा को इसी में समायोजित करने का फैसला सुनाया गया था। इस आधार पर उसकी भी तत्काल रिहाई मुमकिन हो गई थी लेकिन यह चारों रिहा होते, उससे पहले ही सिंध सरकार ने इन्हें शांतिभंग की आशंका में गिरफ्तार कर लिया। इस तरह इनकी रिहाई नहीं हो सकी थी।


कोविड-19 संक्रमण का वैश्विक आंकड़ा 26 लाख के पार

कोरोनावायरस महामारी से ग्रसित लोगों का वैश्विक आंकड़ा एक लाख 83 हजार मौतों से अधिक के साथ 26 लाख के पार हो गया है। जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी ने इस बात की जानकारी दी। जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (सीएसएसई) ने अपने नवीनतम अपडेट में खुलासा कर कहा कि दुनिया भर में गुरुवार सुबह तक कुल मामलों की संख्या 1,83,336 मौतों के साथ 26,27,630 थी।

अमेरिका 46,688 मौतों सहित कुल 8,41,556 मामलों के साथ कोरोनावायरस महामारी से प्रभावित देशों की सूची में सबसे ऊपर है। इसके बाद संक्रमण से ग्रसित सबसे अधिक मामलों वाले देशों में 2,08,389 के साथ स्पेन, 1,87,327 के साथ इटली का स्थान है। इसके बाद 1,50,648 और 1,34,638 मामलों के साथ क्रमश: फ्रांस और जर्मनी इस सूची में शामिल हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia