दुनिया की 5 बड़ी खबरें: यमन में हौती मिसाइल हमले में 2 की मौत, पाकिस्तान में भ्रष्टाचार और बढ़ा

पाकिस्तान में भ्रष्टाचार बीते साल पहले की तुलना में बढ़ा और इस मामले में यह 180 देशों की सूची में 120वें स्थान पर आ गया है। यमन के मध्य में स्थित प्रांत मारिब में हौती विद्रोहियों के एक मिसाइल हमले में दो लोगों की मौत हो गई।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

पाकिस्तान में भ्रष्टाचार और बढ़ा : ट्रांस्पेरेंसी इंटरनेशनल

पाकिस्तान में भ्रष्टाचार बीते साल पहले की तुलना में बढ़ा और इस मामले में यह 180 देशों की सूची में 120वें स्थान पर आ गया है। ट्रांस्पेरेंसी इंटरनेशनल के वैश्विक भ्रष्टाचार सूचकांक 2019 में बताया गया है कि पाकिस्तान भ्रष्टाचार के मामले में 2018 की तुलना में 2019 में तीन स्थान और नीचे खिसक गया है और अब यह 180 देशों के बीच 120वें स्थान पर है।

वैश्विक स्तर पर भ्रष्टाचार पर निगाह रखने वाली संस्था ने 180 देशों को शून्य से सौ के अंकों के पैमाने पर आंका। जिस देश के जितने अधिक अंक आए, वह उतना ही कम भ्रष्ट रहा। 2018 में पाकिस्तान को सौ में से 33 अंक मिले थे। लेकिन, 2019 में इसमें एक अंक की कमी हुई और यह अंक 32 हो गए।

'एफएटीएफ पाकिस्तान की रिपोर्ट से संतुष्ट'

पाकिस्तानी मीडिया की एक रिपोर्ट में यह दावा किया गया है कि चीन के बीजिंग में इस हफ्ते हुई फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) के संयुक्त समूह की बैठक में पाकिस्तान की रिपोर्ट पर संतोष जताया गया है। इस बैठक में पाकिस्तान का पक्ष आर्थिक मामलों के मंत्री हम्माद अजहर ने रखा है। आतंक वित्तपोषण व धनशोधन पर लगाम लगाने के लिए एफएटीएफ ने पाकिस्तान को कई कदम उठाने को कहा है। पाकिस्तान अभी एफएटीएफ की ग्रे सूची में है और आतंकवादियों को पनाह देने के मामले में उस पर एफएटीएफ की काली सूची में जाने का खतरा मंडरा रहा है।

पाकिस्तान के अखबार 'द न्यूज' ने उच्चपदस्थ सूत्रों के हवाले से अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि एफएटीएफ ने जिन कदमों को उठाने के लिए पाकिस्तान से कहा था, उस पर बैठक में विचार किया गया। पाकिस्तान ने अपनी अनुपालन रिपोर्ट पेश की जिस पर 'भारत के अलावा अन्य सदस्य देशों ने संतोष जताया। इनमें अमेरिकी और यूरोपीय यूनियन के देश भी शामिल थे।'

यमन में हौती मिसाइल हमले में 2 की मौत

यमन के मध्य में स्थित प्रांत मारिब में हौती विद्रोहियों के एक मिसाइल हमले में दो लोगों की मौत हो गई। सरकार के एक सूत्र ने यह जानकारी दी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, हमले की चपेट में प्रांत की राजधानी मारिब के पास स्थित अल-रावदाह में एक नागरिक मकान आ गया।

मृतकों में एक महिला और एक बच्चा है वहीं छह लोग घायल हो गए। हमले में घर पूरी तरह नष्ट हो गया। हौती संगठन ने हालांकि इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। सरकारी अधिकारियों के अनुसार, इससे पहले शनिवार को इससे लगे हुए एक सैन्य प्रशिक्षण शिविर में एक संदिग्ध हौती मिसाइल हमले में 100 से ज्यादा सैनिकों की मौत हो गई थी और दर्जनों लोग घायल हो गए थे।

अमेरिका में गोलीबारी, 1 की मौत, 7 घायल

अमेरिका के सिएटल शहर स्थित एक व्यस्त इलाके में एक बंदूकधारी व्यक्ति ने गोलीबारी की। इस घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि सात अन्य घायल हो गए। पुलिस ने ट्विटर पर इस बात की पुष्टि करते हुए कहा है कि वह आरोपियों की तलाश कर रहे हैं। बीबीसी ने पुलिस के हवाले से कहा कि बुधवार को हुई इस घटना के संबंध में कम से कम एक संदिग्ध की तलाश की जा रही है। वारदात के स्थल की फुटेज में अधिकारियों को थर्ड एवेन्यू और पाइन स्ट्रीट के पास फुटपाथ पर हताहत हुए लोगों के साथ देखा जा सकता है।

पुलिस प्रमुख कारमेन बेस्ट ने घटनास्थल पर संवाददाताओं से कहा कि गोलीबारी की इस घटना में एक महिला की मौत हो गई और कई लोग घायल हो गए हैं। सभी घायलों को हार्बरव्यू मेडिकल सेंटर में भर्ती कराया गया है।

पाकिस्तान सीपीईसी के लिए चीन का आभारी : इमरान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अमेरिका की इस धारणा को खारिज कर दिया है कि चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (सीपीईसी) पाकिस्तान के लिए एक तरह से कर्ज का फंदा है। उन्होंने कहा कि कठिन समय में साथ देने के लिए पाकिस्तान, चीन का अहसानमंद है। अमेरिकी चैनल सीएनबीसी को दिए गए एक साक्षात्कार में इमरान ने सीपीईसी का पक्ष लेते हुए कहा, "पाकिस्तान, चीन का आभारी है क्योंकि उसने बेहद कठिन समय में निवेश कर हमारी मदद की। हम उस वक्त बदतरीन हालत में थे जब चीनी (सरकार) आगे आए और हमें उबारा।"

एक सवाल के जवाब में इमरान ने इस बात को पूरी तरह से खारिज कर दिया कि सीपीईसी ने पाकिस्तान को चीन का कर्जदार बनाकर रख दिया है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के कुल कर्ज में चीन के कर्ज का हिस्सा महज पांच-छह फीसदी ही है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

लोकप्रिय