दुनिया की 5 बड़ी खबर: ब्रिटेन में कोरोना महामारी का खतरा बहुत ज्यादा और दुकानदारों का बिजली बिल भरेगी पाक सरकार

पाकिस्तान सरकार कोरोना राहत पैकेज के तहत छोटे दुकानदारों और छोटे कारोबारों के तीन महीने का बिल सरकार भरेगी। कोविड-19 संक्रमण से उबरने के बाद पहली बार देश को संबोधित करते हुए जॉनसन ने कहा कि वर्तमान समय में देश में महामारी से अधिकतम जोखिम बना हुआ है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पाकिस्तान : छोटे दुकानदारों का 3 महीने का बिजली बिल सरकार भरेगी

पाकिस्तान की संघीय कैबिनेट की आर्थिक समन्वय समिति ने फैसला किया है कि प्रधानमंत्री के कोरोना राहत पैकेज के तहत छोटे दुकानदारों और छोटे कारोबारों के तीन महीने का बिल सरकार भरेगी। पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, प्रधानमंत्री के आर्थिक मामलों के सलाहकार अब्दुल हफीज शेख की अध्यक्षता में समिति की बैठक हुई जिसमें छोटे कारोबारियों को राहत देने के प्रधानमंत्री पैकेज पर मुहर लगाई गई।

बैठक के बाद उद्योग मंत्री हम्माद अजहर ने मीडिया को बताया कि छोटे कारोबारी लॉकडाउन खत्म होने के बाद जब भी अपना काम दोबारा शुरू करेंगे, उस समय इनका तीन महीने का बिजली बिल सरकार अदा करेगी। इस फैसले से 35 लाख छोटे दुकानदारों व छोटे उद्योगों को फायदा होगा।

पाकिस्तान : कोरोना था नहीं, डर ने ले ली जान

पाकिस्तान के सिंध प्रांत की राजधानी कराची में कोरोना वायरस से संक्रमित होने का शक एक व्यक्ति के लिए जानलेवा साबित हो गया। इस व्यक्ति ने बेचैनी की स्थिति में अस्पताल की तीसरी मंजिल से छलांग लगाकर जान दे दी। और, बाद में जब उसकी रिपोर्ट आई तो पता चला कि उसे कोरोना संक्रमण था ही नहीं। पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट में बताया गया है कि यह हादसा कराची के जिन्ना अस्पताल में हुआ। यहां 37 वर्षीय एक व्यक्ति को कोरोना के लक्षणों के साथ लाया गया। अस्पताल की कार्यकारी निदेशक सीमी जमाली ने बताया कि कहा गया कि यह व्यक्ति नशीले पदार्थ का सेवन भी करता रहा है। वह अचेत अवस्था में अस्पताल लाया गया था। होश में आने के बाद उसने अस्पताल से जाने के लिए हंगामा मचाया।

ब्रिटेन फिलहाल महामारी के अधिकतम जोखिम में : जॉनसन

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन कोरोनावायरस से जंग जीतकर वापस काम पर लौट आए हैं। कोविड-19 से संक्रमित हुए जॉनसन ने सोमवार को अपने ऑफिस में फिर से कामकाज संभाल लिया। कोविड-19 संक्रमण से उबरने के बाद पहली बार देश को संबोधित करते हुए जॉनसन ने कहा कि वर्तमान समय में देश में महामारी से अधिकतम जोखिम बना हुआ है। उन्होंने लोगों से लागू लॉकडाउन में धैर्य रखने का आग्रह किया।

बीबीसी ने डाउनिंग स्ट्रीट पर रविवार शाम को लौटे जॉनसन के बयान के हवाले से कहा, "हम इससे मुकाबले की शुरुआत कर रहे हैं।" जॉनसन ने अपनी अनुपस्थिति में जनता के साथ खड़े रहकर उनका धैर्य और हिम्मत बढ़ाने के लिए अपने सहयोगियों को धन्यवाद कहा।

लंदन में घरेलू हिंसा मामले में 4,093 लोग गिरफ्तार

ब्रिटेन में कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम के लिए लगाए गए लॉकडाउन के दौरान घरेलू हिंसा के मामले में पिछले छह सप्ताह से 19 अप्रैल तक लंदन में कम से कम 4,093 लोगों की गिरफ्तारी की गई। यह आंकड़ा औसतन प्रतिदिन लगभग 100 व्यक्तियों का रहा। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने मेट्रोपोलिटन पुलिस के लीड फॉर सेफगार्डिग कमांडर सू विलियम्स के रविवार को दिए बयान के हवाले से कहा, "पिछले साल की तुलना में 9 मार्च से घरेलू हिंसा के मामलों में 24 प्रतिशत की वृद्धि हुई। इसकी एक मुख्य वजह कोविड-19 के लक्षणों वाले लोगों का घरों में सेल्फ आइसोलेशन में रहना है।"

मेट पुलिस ने कहा, "अपराधों के रूप में दर्ज नहीं होने वाली व पारिवारिक झगड़े के रूप मे शामिल घरेलू घटनाओं में 9 मार्च से 19 अप्रैल के बीच 9 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई, जबकि पिछले साल यह आंकड़ा 3 प्रतिशत था।"

स्पेन में लॉकडाउन में राहत, दैनिक मौत का आंकड़ा कम

कोरोनावायरस महामारी के चलते दुनिया में बुरी तरह से प्रभावित हुए देशों में से एक स्पेन में एक महीने से अधिक समय में दैनिक मौतों की संख्या में कमी देखी गई है। हेल्थ मिनिस्ट्री ने इस बात की जानकारी दी। बीबीसी ने मिनिस्ट्री के आंकड़ों के हवाले से कहा कि कोरोना संक्रमण के चलते कुल 288 अन्य मौतें हुईं, जो 20 मार्च के बाद से सबसे कम हैं। यह आंकड़ा शनिवार को 378 मौतों का था।

हेल्थ मिनिस्ट्री ने कहा कि देश में मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 23,190 हो गई है। वहीं, 14 वर्ष से कम आयु के बच्चों को छह सप्ताह में पहली बार रविवार को अपने घरों से बाहर निकलने की अनुमति दी गई। अब वे प्रतिदिन एक घंटे के लिए बाहर जा सकते हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय