दुनिया की 5 बड़ी खबरें: अमेरिका-तालिबान में शांति समझौता, बाहर जाएगी अमेरिकी सेना, पाक के सिंध में 80 हजार मास्क जब्त

अमेरिका और अफगानिस्तान के आतंकी गुट तालिबान के बीच शनिवार को शांति समझौता हुआ। तालिबान यदि समझौते का पालन करता है तो अमेरिका और इसके सहयोगी 14 महीने के भीतर अफगानिस्तान से अपने सभी सैनिकों को वापस बुला लेंगे।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

अमेरिका-तालिबान में शांति समझौता, 14 महीने में अफगानिस्तान से बाहर जाएंगे US फोर्स

अमेरिका और अफगानिस्तान के आतंकी गुट तालिबान के बीच शनिवार को शांति समझौता हुआ। तालिबान यदि समझौते का पालन करता है तो अमेरिका और इसके सहयोगी 14 महीने के भीतर अफगानिस्तान से अपने सभी सैनिकों को वापस बुला लेंगे। वाशिंगटन और काबुल ने शनिवार को संयुक्त बयान में यह बात कही। इस समझौते के बाद अमेरिका अपनी सेना को बाहर निकालना शुरू कर सकता है। वार्ता के दौरान अमेरिका विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने तालिबान से अल-कायदा के साथ संबंध खत्म करने का वादा निभाने का आग्रह किया। अमेरिका और तालिबान के बीच यह ऐतिहासिक समझौता कतर की राजधानी दोहा में हुआ।

घोषणा में कहा गया कि शनिवार को समझौते पर हस्ताक्षर होने के 135 दिन के भीतर आरंभिक तौर पर अमेरिका और इसके सहयोगी अपने 8,600 सैनिकों को वापस बुला लेंगे। इसमें कहा गया कि इसके बाद ये देश ‘‘14 महीने के भीतर अफगानिस्तान से अपने सभी सैनिकों को वापस बुला लेंगे।’’ वहीं अफगान समझौता प्रतिनिधिमंडल अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल तालिबान के साथ समझौता करने के लिए दोहा पहुंच चुका है।

अमेरिका में कोरोना संक्रमण के मामले 60 तक पहुंचे

मेरिका में कोरोना वायरस (कोविड-19) के ऐसे दूसरे मामले का पता चला है, जिसमें इस खतरनाक वायरस के संक्रमण के फैलने का कारण स्पष्ट नहीं है। अमेरिका में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले 60 तक पहुंच गए हैं। यह जानकारी उत्तरी कैलिफोर्निया के सांता क्लारा काउंटी जन स्वास्थ्य विभाग ने दी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, सांता क्लारा स्वास्थ्य अधिकारियों ने शुक्रवार को एक महिला में कोविड-19 के संक्रमण की पुष्टि की। काउंटी की जन स्वास्थ्य प्रयोगशाला ने गुरुवार को नमूने प्राप्त कर टेस्ट किया था। संक्रमण से ग्रस्त रोगी ने चीन या अन्य ऐसी किसी जगह की यात्रा भी नहीं की थी और न ही वह किसी अन्य संक्रमित लोगों के संपर्क में थी।


नवाज शरीफ को अदालत में व्यक्तिगत पेशी से छूट

पाकिस्तान की एक जवाबदेही अदालत ने चौधरी शुगर मिल मामले में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को चिकित्सा आधार पर अदालत में व्यक्तिगत रूप से पेश होने के लिए फिर से छूट प्रदान की है। शरीफ को 30 मार्च तक अदालत में व्यक्तिगत रूप से पेश होने की छूट मिली है। डॉन न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, अधिवक्ता अमजद परवेज ने अदालत को बताया कि शरीफ अभी भी लंदन में उपचाराधीन है और डॉक्टरों ने उन्हें यात्रा करने की अनुमति नहीं दी है। अदालत ने शरीफ की ओर से दायर इस आवेदन पर अपनी सहमति जताते हुए सुनवाई 30 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी है। शरीफ के भतीजे और इस मामले में मुख्य संदिग्धों में शामिल यूसुफ अब्बास भी इस दौरान अदालत में पेश हुए। अब्बास को कुछ समय पहले ही लाहौर हाईकोर्ट ने जमानत पर रिहा किया था।

पाकिस्तान : सिंध प्रांत में 80 हजार मास्क जब्त

पाकिस्तान के सिंध प्रांत की सरकार ने मुनाफाखोरी पर लगाम लगाने के लिए 80 हजार मास्क की एक खेप जब्त की। पुलिस को विक्रेताओं और स्टॉकिस्टों द्वारा जमाखोरी की शिकायतें मिल रही हैं। इसी पर नकेल कसने के लिए पुलिस ने कार्रवाई करनी शुरू की है। डॉन न्यूज के अनुसार, देश में कोरोनावायरस संक्रमण के दो मामले सामने आने के बाद से मास्क की कीमतों में अचानक से उछाल आ गया है। अधिकारियों ने शुक्रवार को पोर्ट कासिम में छापेमारी कर एन95 कैटेगॉरी के मास्क को जब्त किया। यह खेप यहां आने के लिए अधिकारियों से अनुमति मिलने की प्रतीक्षा में थी।

इससे पहले, सिंध ड्रग इंस्पेक्टरों ने शहर में कच्ची गली के नाम से चर्चित दवा के थोक बाजार में छापा मारा। यहां वे किसी भी मुनाफाखोर या जमाखोरी के आरोपी व्यक्ति को गिरफ्तार नहीं कर सके और खाली हाथ लौट गए।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia