दुनिया की 5 बड़ी खबरें: ये शख्स छठी बार बनेगा युगांडा का राष्ट्रपति, नॉर्वे में वैक्सीन लेने के बाद 23 बुजुर्गों की मौत

युगांडा में राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटों की गिनती जारी है, लेकिन 5 बार से राष्ट्रपति बनते आये योवेरी मुसोवेनी ने शानदार बढ़त बनाकर राष्ट्रपति की कुर्सी फिर अपने कब्जे में कर ली है और नॉर्वे में कोविड -19 फाइजर-बायोएनटेक एमआरएनए वैक्सीन लेने के बाद 23 बुजुर्ग मरीजों की मौत हो गई है।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

युवाओं के देश युगांडा में 76 साल का शख्स छठी बार बनेगा राष्ट्रपति

युगांडा में राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटों की गिनती जारी है, लेकिन 5 बार से राष्ट्रपति बनते आये योवेरी मुसोवेनी ने शानदार बढ़त बनाकर राष्ट्रपति की कुर्सी फिर अपने कब्जे में कर ली है। हालांकि, योवेरी मुसोवेनी के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले मुख्य प्रतिद्वंदी बॉबी वाइन ने चुनाव में राष्ट्रपति पर फर्जीवाड़ा करने के आरोप लगाए हैं। युगांडा में अभी वोटों की गिनती जारी है। वहां बैलेट पेपर के जरिए चुनाव होते हैं, लिहाजा वोटों की गिनती होने में समय लगता है। युगांडा चुनाव आयोग ने बताया है कि अब तक 91 प्रतिशत वोटों की गिनती की जा चुकी है, जिसमें योवेरी मुसोवेनी को 5.6 मीलियन लोगों का वोट हासिल हुआ है। यानि उन्होंने करीब 59 फीसदी मतों के साथ बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है। वहीं, चुनाव में उन्हें शिकस्त देने के लिए काफी मेहनत करने वाले युवा और पॉप सिंगर बॉबी वाइन को 3.3 मीलियन वोट हासिल हुए हैं। जो कुल 34.6 प्रतिशत है। फाइनल रिजल्ट के लिए वोटों की गिनती जारी है।

नॉर्वे में फाइजर वैक्सीन लेने के बाद 23 बुजुर्गो की मौत, जांच शुरू

नॉर्वे में कोविड -19 फाइजर-बायोएनटेक एमआरएनए वैक्सीन लेने के बाद 23 बुजुर्ग मरीजों की मौत की चौंकाने वाली खबर सामने आने पर देश ने मामलों में विस्तृत जांच शुरू किया है। प्रतिष्ठित ब्रिटिश मेडिकल जर्नल (बीएमजे) ने शुक्रवार की रिपोर्ट में कहा कि, सामने आई मौतों के बाद नॉर्वे में डॉक्टरों को फाइजर-बायोएनटेक वैक्सीन प्राप्त करने वाले बुजुर्ग मरीजों का अधिक गहन मूल्यांकन करने के लिए कहा गया है। नार्वेजियन मेडिसिन्स एजेंसी (एनओएमए) के मेडिकल डायरेक्टर, स्टीमर मैडसेन ने बीएमजे को बताया, "यह एक संयोग हो सकता है, लेकिन फिलहाल हम निश्चिंत नहीं है।" उन्होंने आगे कहा, "इन मौतों और वैक्सीन के बीच कोई निश्चित संबंध नहीं है।" एजेंसी ने अब तक 13 मौतों की जांच की है और निष्कर्ष निकाला है कि एमआरएनए टीकों की सामान्य प्रतिकूल प्रतिक्रियाएं, जैसे कि बुखार, मतली और दस्त से कुछ कमजोर रोगियों पर वैक्सीन का बुरा प्रभाव पड़ा।

इंडोनेशिया में आए भूकंप में 42 की मौत, 15000 को स्थानांतरित किया गया

इंडोनेशिया के पश्चिम सुलावेसी प्रांत में आए 6.2 तीव्रता के भूकंप में अब तक 42 लोगों की मौत हो गई है, वहीं 800 से अधिक लोग घायल हो गए हैं। भूकंप प्रभावित क्षेत्र से 15,000 लोगों को सुरक्षित पर ले जाया गया है। अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि भूकंप के कारण घरों और बुनियादी ढांचे को काफी नुकसान पहुंचा है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ को राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रवक्ता रादित्य जति ने बताया कि, शुक्रवार को मामुजू शहर और मजेने जिले में आए भूकंप के बाद आने घायल हुए लोगों का फील्ड हॉस्पिटल और अन्य अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। प्रवक्ता ने खुलासा किया कि, मामुजू में 189 लोगों को गंभीर चोटें आईं और 639 लोगों को मामूली चोटें आई हैं। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने बताया, "जिन मरीजों का इलाज प्रभावित अस्पतालों में किया गया था, उन्हें अब फील्ड अस्पतालों में भेज दिया गया है।" प्रांतीय सामाजिक कार्यालय के एक अधिकारी सियरीफुद्दीन एस, के अनुसार, भूकंप ने मामुजू में मित्रा मनकारा अस्पताल को तबाह कर दिया है।

सीरियन एयर ने 2011 के बाद पहली बार अलेप्पो-बेरुत फ्लाइट चलाई

सीरियन एयर ने उत्तरी शहर अलेप्पो और लेबनान की राजधानी बेरुत के बीच 10 साल में अपनी पहली उड़ान का संचालन किया, इसने राउंड ट्रिप रूट को फिर से बहाल किया, जिसे 2011 में सीरियाई संघर्ष शुरू होने के बाद से बंद कर दिया गया था। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, लेबनान के स्थानीय टीवी चैनल एमटीवी ने एक रिपोर्ट में कहा कि अलेप्पो अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे से उड़ान भरे विमान ने शुक्रवार तड़के 2 बजे बेरूत में लैन्डिंग की। रिपोर्ट में कहा गया है कि यह एयरबस 320 था और 26 यात्रियों को ले गया। बाद में दिन में, विमान 43 यात्रियों के साथ अलेप्पो के लिए रवाना हुआ। एयरलाइंस के हवाले से कहा गया कि वह हर शुक्रवार को अलेप्पो और बेरुत के बीच साप्ताहिक उड़ानों का परिचालन करेगा। सीरिया के सबसे बड़े शहर अलेप्पो का एयरपोर्ट लड़ाई की वजह से सालों से बंद पड़ा था। अरब न्यूज ने बताया कि सीरियाई सरकार ने पिछले दिसंबर में राउंड-ट्रिप रूट को फिर से खोलने का निर्णय लिया था। बेरुत और दमिश्क के बीच कॉमर्शियल उड़ानें संघर्ष के दौरान जारी रहीं, सीरियन एयर इस समय मार्ग पर एक सप्ताह में तीन उड़ानों का परिचालन कर रही है।

बाइडेन ने समीरा फाजिली की नेशनल इकानॉमिक काउंसिल में की नियुक्ति

कश्मीर से ताल्लुक रखने वाले परिवार की बेटी समीरा फाजिली उन भारतीय अमेरिकियों की सूची में शामिल हो गई हैं, जिन्हें अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की ए-टीम में नियुक्त किया गया है। फाजिली को नेशनल इकानॉमिक काउंसिल के डायरेक्टर के रूप में नियुक्त किया गया है। जो बाइडेन के नए प्रशासन के कार्यभार संभालने के कुछ दिन पहले ही फाजिली को व्हाइट हाउस के वरिष्ठ अधिकारियों में शामिल किया गया है। इस हफ्ते की शुरुआत में बाइडेन की ट्रांजिशन टीम ने फाजिली का परिचय देते हुए और उनके प्रोफेशनल काम के बारे में बताते हुए लिखा था कि फाजिली अटलांटा के फेडरल रिजर्व बैंक में थीं, जहां उन्होंने एंगेजमेंट फॉर कम्युनिटी एंड इकानॉमिक डेवलपमेंट के डायरेक्टर के तौर पर काम किया। ओबामा-बाइडेन प्रशासन में, फाजिली ने व्हाइट हाउस की नेशनल इकानॉमिक काउंसिल में एक वरिष्ठ नीति सलाहकार के रूप में और घरेलू वित्त और अंतर्राष्ट्रीय मामलों के लिए अमेरिकी ट्रेजरी विभाग में एक वरिष्ठ सलाहकार के रूप में कार्य किया था। इससे पहले वह येल लॉ स्कूल में कानून की क्लिनिकल लेक्च रर थीं। फाजिली अपने पति और 3 बच्चों के साथ जॉर्जिया में रहती हैं। वे येल लॉ स्कूल और हार्वर्ड कॉलेज से स्नातक हैं। समीरा फाजिली कश्मीर में जन्मे डॉक्टर दंपति मुहम्मद यूसुफ फाजिली और रफीका फाजिली की बेटी हैं, जो मूल रूप से गोजवाड़ा क्षेत्र के हैं।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय
next