रूस के खिलाफ यूरोपीय संघ के मानवाधिकार कोर्ट पहुंचा यूक्रेन, नए मुकदमे में तबाही के लिए मुआवजा भी मांगा

यूक्रेन के न्याय मंत्रालय ने कहा कि रूस ने 24 फरवरी को किए गए आक्रमण से लेकर 7 अप्रैल को कीव और उत्तरी यूक्रेन के अन्य शहरों के आसपास से अपनी जमीनी सेना की प्रभावी वापसी तक कई मानवाधिकारों का उल्लंघन किया है। जिसके चलते यह मुकादमा दायर किया गया है।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

यूक्रेन ने रूस के खिलाफ यूरोपियन कोर्ट ऑफ ह्यूमन राइट्स (ईसीएचआर) में कीव पर हो रहे आक्रमण को लेकर एक नया मुकदमा दायर किया है। इस नए मुकदमे में यूक्रेन ने रूसी सेना की वापसी की मांग के साथ मुआवजे की भी मांग की है।

उक्रेनइंस्का प्रावदा की रिपोर्ट के मुताबकि, एक बयान में न्याय मंत्रालय ने कहा कि रूस ने 24 फरवरी को किए गए आक्रमण से लेकर 7 अप्रैल को कीव और उत्तरी यूक्रेन के अन्य शहरों के आसपास से अपनी जमीनी सेना की प्रभावी वापसी तक कई मानवाधिकारों का उल्लंघन किया है। जिसके चलते यह मुकादमा दायर किया गया है।


बयान में कहा गया है कि इन कार्यवाहियों के द्वारा यूक्रेन यथास्थिति बहाल करने और रूसी सेना की वापसी के अलावा मुआवजा चाहता है। मंत्रालय ने दावा किया कि 24 फरवरी से अप्रैल तक रूसी सैन्य आक्रमण का पहला चरण है। इसमें नुकसान की राशि कम से कम 80 बिलियन डॉलर थी।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;