कोरोना संकट के बीच अब ट्रंप का WHO पर निशाना, कहा- चीन पर ज्यादा दे रहा है ध्यान, फंडिंग पर लगाएंगे रोक

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि डब्ल्यूएचओ को अमेरिका से बड़े पैमाने पर राशि मिलती है। जब मैंने चीन के लिए यात्रा पर बैन लगाया तो डब्ल्यूएचओ मुझसे असहमत था और उन्होंने ने मेरी आलोचना की। वह कई चीजों के बारे में गलत थे। ऐसा लगता है कि उनका चीन पर ज्यादा ध्यान है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कोरोना वायरस ने अमेरिका में कोहराम मचा रखा है। हर दिन यहां पर रिकॉर्ड मौतें हो रही हैं। इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस जानलेवा बीमारी से निपटने में विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि डब्ल्यूएचओ चीन पर ज्यादा ध्यान दे रहा है।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, “विश्व स्वास्थ्य संगठन को अमेरिका से बड़े पैमाने पर राशि मिलती है। जब मैंने चीन के लिए यात्रा पर बैन लगाया तो वह (डब्ल्यूएचओ) मुझसे असहमत थे और उन्होंने ने मेरी आलोचना की। वह कई चीजों के बारे में गलत थे। ऐसा लग रहा है कि उनका चीन पर ज्यादा ध्यान है। हम डब्ल्यूएचओ पर खर्च की जाने वाली धनराशि पर रोक लगाने जा रहे हैं।”

ट्रंप ने प्रेस से बात करते हुए कहा कि संयुक्त राष्ट्र के इस निकाय के फंडिग का बड़ा स्रोत अमेरिका है। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा हम डब्ल्यूएचओ पर खर्च किए जाने वाले धन पर रोक लगाने जा रहे हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति साफ कहा कि डब्ल्यूएचओ चीन की ओर बहुत पक्षपाती प्रतीत होता है, जोकि सही नहीं है।

अमेरिकी राष्ट्रपति पहले भी संयुक्त राष्ट्र के तहत काम करने वाली कई एजेंसियों पर निशाना साध चुके हैं। चीन और इटली के बाद अमेरिका में कोरोना वायरस का सबसे ज्यादा प्रकोप देखा जा रहा है। अमेरिका में हर दिन कोरना वायरस से सैकड़ों लोगों की जान जा रही है। पिछले 24 घंटे में अमेरिका में रिकॉर्ड 2000 लोगों की मौत हो गई है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 08 Apr 2020, 8:59 AM
;