स्पेन के द्वीप पर ज्वालामुखी का फटना जारी, बीते 66 दिन से लगातार भूकंप के साथ निकल रहा है लावा और राख

द्विप के करीब 3000 स्थानीय लोगों को घरों के अंदर रहने का आदेश दिया गया है। वहीं 2500 से ज्यादा इमारतों को नष्ट किया गया है और करीब 7000 लोगों को जगह खाली करनी पड़ी है। राख और धूल के गुबार के कारण द्वीप के हवाई अड्डे को बंद करने के लिए मजबूर होना पड़ा है।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

स्पेन के ला पाल्मा द्वीप पर कंब्रे विएजा ज्वालामुखी का विस्फोट बिना किसी राहत के संकेत दिए बेरोकटोक जारी है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार देश के वैज्ञानिकों ने बताया कि ज्वालामुखी पिछले 66 दिनो से सक्रिय है और यह लगातार लावा और राख उगलने के साथ ही भूकंप पैदा कर रहा है।

स्पेन के नेशनल ज्योग्राफिक इंस्टीट्यूट ने मंगलवार की मध्यरात्रि से सुबह 7.37 बजे के बीच 46 भूकंप के झटके दर्ज किए, जिसमें सबसे शक्तिशाली झटका रिक्टर पैमाने पर 4.8 और 4.7 की तीव्रता के साथ आया था। सोमवार को 95 भूकंप झटके दर्ज किए गए, जो 17 नवंबर के बाद से सबसे बड़ी संख्या है और अब तक 300 से ज्यादा भूकंप के झटके दर्ज किए गए।


सोमवार को ज्वालामुखी से एक चौथा लावा प्रवाह समुद्र में पहुंच गया और गर्म लावा अटलांटिक महासागर के ठंडे खारे पानी से मिल गया, जिसके कारण जहरीली गैसों का खतरा मंडरा रहा है। ज्वालामुखी से निकल रहा लावा अब द्वीप पर लगभग 1,060 हेक्टेयर भूमि को कवर करता है, जो एक बड़ा खतरा बनता जा रहा है।

द्विप पर लगभग 3,000 स्थानीय निवासियों को घरों के अंदर रहने का आदेश दिया गया है। जबकि 2,500 से ज्यादा इमारतों को नष्ट कर दिया गया है और लगभग 7,000 लोगों को जगह खाली करनी पड़ी है। ज्वालामुखी से लगातार निकल रहे राख और धूल के गुबार ने अधिकारियों को द्वीप के हवाई अड्डे को बंद करने के लिए मजबूर कर दिया है। क्षेत्रीय कैनरी द्वीप वाहक बिन्टर ने बताया कि द्वीप से आने-जाने वाली उड़ानें सप्ताहांत में रद्द कर दी गईं और स्थिति का जल्द ही पुर्नमूल्यांकन किया जाना है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia