अफगानिस्तान पर आधिकारिक तौर पर कौन कर रहा शासन, अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय को नहीं पता, तालिबान को देना होगा जवाब

अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय (आईसीसी) ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव से अंतर्राष्ट्रीय निकायों में अफगानिस्तान के प्रतिनिधित्व की पहचान करने के लिए स्पष्टीकरण देने को कहा है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय (आईसीसी) ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव से अंतर्राष्ट्रीय निकायों में अफगानिस्तान के प्रतिनिधित्व की पहचान करने के लिए स्पष्टीकरण देने को कहा है। अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद से यह स्थिति अस्पष्ट बनी हुई है। टोलो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, आईसीसी न्यायाधीशों ने कहा है कि अदालत अफगानिस्तान में कथित युद्ध अपराधों की जांच शुरू करने पर फैसला नहीं कर पा रही है, क्योंकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि अंतर्राष्ट्रीय कानून के दृष्टिकोण से अफगानिस्तान पर आधिकारिक तौर पर कौन शासन कर रहा है।

संयुक्त राष्ट्र को लिखे एक पत्र में, आईसीसी ने कहा, "15 अगस्त, 2021 से अफगानिस्तान के राज्य प्राधिकरणों का गठन करने वाली इकाई के प्रश्न को संबोधित किए बिना अनुरोध को कानूनी रूप से स्थगित नहीं किया जा सकता है।" जैसा कि रिपोटे से संकेत मिलता है, कई अफगान परिवार युद्ध और संबंधित अपराधों से प्रभावित हुए हैं।


हेलमंद के रहने वाले इस्माइल ने छह साल पहले अपने घर में रॉकेट से हमला करने के बाद अपने पिता और भाई को खो दिया था। उन्होंने इस घटना को युद्ध अपराध बताया जिसकी जांच की जरूरत है। इस्माइल ने टोलो न्यूज को बताया, "हमारे घर पर मोर्टार गिरा। पिछली सरकार ने हमारे मामले की जांच नहीं की और इस सरकार ने भी जांच शुरू नहीं की।"

साथ ही, कई अफगान वकीलों का कहना है कि युद्ध अपराधों की जांच युद्धग्रस्त राष्ट्र में ऐसे अपराध करने वाले लोगों को दंडित करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। एक वकील सुभान मेसबाह ने कहा, "न केवल विदेशियों ने बल्कि अफगानों ने भी इस तरह के अपराध किए और अब भी ऐसा करना जारी रख रहे हैं। इसलिए, आईसीसी के लिए तालिबान की मान्यता की स्थिति जानना आवश्यक है।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 11 Oct 2021, 3:34 PM