दुनिया की 5 बड़ी खबरें: विश्व भर में कोरोना ने तोड़े अबतक के सारे रिकॉर्ड और चीन की भारत को गीदड़भभकी

रविवार को कोरोना वायरस ने संक्रमण का रिकॉर्ड बना दिया है, दुनिया भर में पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 1,83,000 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हुए और लद्दाख में गलवान घाटी में हिंसक झड़प के बाद भारत ने LAC पर सख्ती बढ़ा दी, जिसके बाद चीन ने धमकी दी है।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

पिछले 24 घंटे में दुनिया में 183000 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित

रविवार को कोरोना वायरस ने संक्रमण का रिकॉर्ड कायम कर दिया। रविवार को दुनिया भर में पिछले 24 घंटे में 1,83,000 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हुए। कोरोना वायरस संक्रमण शुरू होने के बाद 24 घंटे में इस बीमारी की चपेट में आने वालों का ये सबसे बड़ा आंकड़ा है। WHO ने कहा है कि करीब दो लाख तक के इस संक्रमण में ब्राजील के सबसे ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव पाए। वहां 24 घंटे में 54771 पॉजिटिव केस पाए गए। इसके बाद नंबर रहा अमेरिका का, जहां 36617 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 15400 रही। वहीं ब्राजील में भी हालात चिंताजनक है। यहां पर एक दिन में 50 हजार से ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव हुए हैं। जबकि इस देश में मृतकों की संख्या भी 50 हजार पार कर चुकी है। ये दुनिया दूसरा सबसे बड़ा आंकड़ा है।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images

युद्ध को लेकर चीन की भारत को धमकी, कहा-इस बार ज्यादा होगा नुकसान

लद्दाख में गलवान घाटी में हिंसक झड़प के बाद भारत ने LAC पर सख्ती बढ़ा दी, जिसके बाद चीन गीदड़भभकी पर उतर आया है। चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने धमकी भरे लहजे में लिखा है कि भारत जानता है कि चीन के साथ जंग नहीं की जा सकती है, क्योंकि नई दिल्ली को पता है कि अब अगर युद्ध हुआ तो उसका हाल 1962 की लड़ाई से भी बुरा हाल होगा। ग्लोबल टाइम्स में रविवार को प्रकाशित रिपोर्ट में एक चीनी विश्लेषक ने कहा कि अगर नए सिरे से फिर युद्ध होता है तो चीन के साथ 1962 के सीमा विवाद के बाद भारत और अधिक अपमानित होगा, यदि वह घर में चीन विरोधी भावना को नियंत्रित नहीं कर सकता है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

चीन से तनाव के बीच OIC ने कश्मीर पर बुलाई बैठक

इस्लामिक सहयोग संगठन ने जम्मू कश्मीर पर आपातकालीन बैठक की। सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई ओआईसी की बैठक में जम्मू-कश्मीर कॉन्टैक्ट ग्रुप के सदस्य देश अजरबैजान, नाइजर, पाकिस्तान, सऊदी अरब और तुर्की ने हिस्सा लिया। बता दें, ओआईसी संगठन में 67 देश शामिल हैं और इसे मुस्लिम दुनिया की आवाज माना जाता है। यह बैठक कॉन्टैक्ट ग्रुप की है जिसे ओआईसी ने जम्मू-कश्मीर मुद्दे पर 1994 में बनाया था। इस बैठक की मांग पाकिस्तान लंबे समय से कर रहा था। इससे पहले, जम्मू-कश्मीर कॉन्टैक्ट ग्रुप के सदस्य देशों ने कश्मीर मुद्दे पर दो बैठक बुला चुके हैं। इन बैठकों में कश्मीर के हालात को लेकर चिंता जताई गई थी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

7 जुलाई से पर्यटक कर सकेंगे दुबई की यात्रा

दुनिया भर में कोरोना संकट के बीच विदेशी सैलानी 7 जुलाई से दुबई जा सकेंगे। दुबई ने इसकी अनुमति दी है। वहीं रेजीडेंसी वीजा धारक विदेशी नागरिक 22 जून से दुबई वापस आ सकेंगे। कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए दुबई ने पर्यटकों के आने पर रोक लगा दी थी। मगर अब जब पूरी दुनिया में नियम कायदों में ढील दी जा रही है। वहीं दुबई फिर से पर्यटकों के स्वागत के लिए तैयार है। सरकार की तरफ से यात्रियों के लिए प्रोटोकॉल सूची भी जारी की गई है, जिसका पालन करना सभी के लिए अनिवार्य होगा। दुबई मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सरकार ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि दुबई की यात्रा करने वालों को कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए जारी दिशा निर्देशों का पालन करना होगा।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नेपाल ने बिहार बॉर्डर पर रोका बांध की मरम्मत का कार्य

उत्तराखंड के कालापानी, लिपुलेख और लिम्पियाधुरा को अपने नक्शे में शामिल करने के बाद नेपाल लगातार भारत के साथ तनाव बढ़ाने वाले कदम उठा रहा है। अब बिहार से लगी नेपाल की सीमा पर बांध के निर्माण कार्य को लेकर सीमा सशस्त्र बल और नेपाली फोर्स में ठन गई है। बिहार के पूर्वी चंपारण में नेपाल-बिहार बॉर्डर पर ढाका नाम की जगह पर बिहार सरकार की तरफ से बांध की मरम्मत का काम चल रहा था जिसे नेपाल ने रोक दिया है। ये जगह मोतिहारी टाउन से 45 किमी दूरी पर है। बिहार के जल संसाधन मंत्री संजय झा ने बताया, नेपाल गंडक बांध पर मरम्मत का काम करने की अनुमति नहीं दे रहा है। बता दें, पिछले सप्ताह ही नेपाल ने भारत के ऐतराज के बावजूद नया नक्शा जारी किया था जिसमें भारत के तीन क्षेत्रों कालापानी, लिपुलेख और लिम्पियाधुरा को शामिल किया है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia