ब्रिटेन की बेहतरी के लिए दिन-रात करूंगा काम- ऋषि सुनक ने पीएम चुने जाने के बाद पहले भाषण में किया वादा

ब्रिटेन के आर्थिक संकट का जिक्र करते हुए ऋषि सुनक ने कहा कि ब्रिटेन एक महान देश है लेकिन हम एक गहन आर्थिक चुनौती का सामना कर रहे हैं। अब हमें स्थिरता और एकता की आवश्यकता है और मैं अपनी पार्टी और देश को एक साथ लाना अपनी सर्वोच्च प्राथमिकता बनाऊंगा।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

ब्रिटेन में जारी राजनीतिक संकट के बीच देश का प्रधानमंत्री चुने जाने के बाद ऋषि सुनक ने लंदन में कंजर्वेटिव पार्टी मुख्यालय में अपने पहले संबोधन में कहा कि मैं प्रतिज्ञा करता हूं कि मैं ईमानदारी और विनम्रता के साथ आपकी सेवा करूंगा और ब्रिटिश लोगों की बेहतरी के लिए दिन-रात काम करूंगा। टोरी सांसदों द्वारा नेता चुने जाने के तुरंत बाद उन्होंने समय पूर्व आम चुनाव से इनकार किया और अपनी पार्टी को चेतावनी दी कि उन्हें "एकजुट रहना या मरना" होगा।

पूर्व प्रधानमंत्री लिज़ ट्रस की तारीफ से भाषण की शुरुआत करते हुए सुनक ने कहा कि उन्होंने देश और विदेश दोनों में बड़े बदलाव और असाधारण कठिन परिस्थितियों में गरिमा और अनुग्रह के साथ देश का नेतृत्व किया। सुनक ने कहा कि अपने संसदीय सहयोगियों का समर्थन पाकर और कंजरवेटिव और यूनियनिस्ट पार्टी के नेता के रूप में चुने जाने पर विनम्र और सम्मानित महसूस कर रहा हूं। यह मेरे जीवन का सबसे बड़ा सौभाग्य है कि मैं जिस पार्टी से प्यार करता हूं उसकी और देश की सेवा करने में सक्षम हूं, जिसका मैं बहुत ऋणी हूं।


ब्रिटेन के सामने खड़ी आर्थिक कठिनाइयों का जिक्र करते हुए सुनक ने कहा कि ब्रिटेन एक महान देश है लेकिन हम एक गहन आर्थिक चुनौती का सामना कर रहे हैं। अब हमें स्थिरता और एकता की आवश्यकता है और मैं अपनी पार्टी और देश को एक साथ लाना अपनी सर्वोच्च प्राथमिकता बनाऊंगा क्योंकि यही एकमात्र तरीका है जिससे हम चुनौतियों से पार पा सकते हैं और अपने बच्चों और पोते-पोतियों के लिए बेहतर भविष्य का निर्माण कर सकते हैं।

कोविड महामारी के दौरान देश के वित्त मंत्रालय की देखरेख करने वाले पूर्व-मंत्री सुनक पार्टी सांसदों का समर्थन हासिल करने के एकमात्र दावेदार थे। उनके प्रतिद्वंद्वी पेनी मोर्डौंट नामांकन बंद होने से पहले अंतिम मिनट में दौड़ से बाहर हो गए। इस बीच, विपक्षी लेबर पार्टी ने कहा कि सुनक मतदाताओं के जनादेश के बिना चुने गए एक और टोरी प्रधानमंत्री बनेंगे। लेबर पार्टी बार-बार आम चुनाव की मांग कर रही है, जिसका स्कॉटिश नेशनल पार्टी, लिबरल डेमोक्रेट्स और ग्रीन पार्टी भी समर्थन कर रही है।


ऋषि सुनक ब्रिटेन का नेतृत्व करने वाले पहले भारतीय मूल के व्यक्ति बन गए हैं। महज 42 वर्ष की आयु में सुनक 200 से अधिक वर्षों के इतिहास में प्रधानमंत्री का दायित्व संभालने वाले देश के सबसे कम उम्र के व्यक्ति बनने के साथ ही नए किंग चार्ल्स तृतीय के तहत शपथ लेने वाले पहले प्रधानमंत्री भी होंगे।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;