दुनिया: लाल सागर के तनाव को कम करने के लिए कोशिश करेगा चीन और मध्य पूर्व में तैनात अमेरिकी सैनिक लौटे घर

चीन विभिन्न पक्षों के साथ लाल सागर के तनाव को कम करने के लिए अथक कोशिश जारी रखेगा। अमेरिकी सेना के एक प्रवक्ता ने कहा है कि 7 अक्टूबर, 2023 के हमास हमले के मद्देनजर मध्य पूर्व में तैनात किए गए लगभग 100 अमेरिकी सैनिक अपने होम स्टेशनों पर लौट आए हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

भारत ने भूकंप के बाद पुनर्निर्माण के लिए नेपाल को 1 हजार करोड़ की सहायता की घोषणा की

दुनिया: लाल सागर के तनाव को कम करने के लिए कोशिश करेगा चीन और मध्य पूर्व में तैनात अमेरिकी सैनिक लौटे घर

भारत ने गुरुवार को विदेश मंत्री स्तर पर नेपाल-भारत संयुक्त आयोग की सातवीं बैठक के दौरान नेपाल के पुनर्निर्माण को लिए 1,000 करोड़ रुपये (नेपाली रुपया) अनुदान की घोषणा की है। इससे पहले, हिमालयी राष्ट्र में 2015 में आए विनाशकारी भूकंप के बाद, भारत ने नेपाल के पुनर्निर्माण के लिए 1 बिलियन डॉलर के अनुदान और ऋण की घोषणा की थी।

एक अधिकारी ने बताया कि 1,000 करोड़ रुपये की घोषित सहायता नई है। इस समझौते पर भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर की काठमांडू यात्रा के दौरान हस्ताक्षर किए गए। जयशंकर गुरुवार को दो दिवसीय यात्रा पर काठमांडू (नेपाल) पहुंचे। उन्होंने राष्ट्रपति रामचंद्र पौडेल और प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल से शिष्टाचार मुलाकात की।

विभिन्न पक्षों के साथ लाल सागर के तनाव को कम करने के लिए कोशिश करेगा चीन

दुनिया: लाल सागर के तनाव को कम करने के लिए कोशिश करेगा चीन और मध्य पूर्व में तैनात अमेरिकी सैनिक लौटे घर

संयुक्त राष्ट्र स्थित चीनी उप प्रतिनिधि कंग श्वांग ने बताया कि चीन विभिन्न पक्षों के साथ लाल सागर के तनाव को कम करने, यमन सवाल के राजनीतिक समाधान और गाजा में युद्ध विराम करने और मध्य पूर्व में चिरस्थाई शांति के लिए अथक कोशिश जारी रखेगा।

कंग श्वांग ने सुरक्षा परिषद में लाल सागर की तनाव स्थिति पर खुली बैठक पर बताया कि चीन एक अरसे से लाल सागर में कई बार वाणिज्यिक जहाजों पर हमला करने और उनको हिरासत में रखने पर चिंतित है और संबंधित पक्षों से नागरिक जहाजों पर हमला बंद करने और लाल सागर में विभिन्न देशों की जहाजरानी की स्वतंत्रता का सम्मान और गारंटी करने की अपील करता है।

चीन के विचार में विभिन्न पक्षों खासकर प्रभावकारी बड़े देशों को लाल सागर की जहाजरानी लाइन की सुरक्षा में रचनात्मक और जिम्मेदार भूमिका निभानी चाहिए। उन्होंने कहा कि लाल सागर के तनाव से यमन की राजनीतिक प्रक्रिया में नयी चुनौती आयी है। उन्होंने बल दिया कि लाल सागर का तनाव गाजा मुठभेड़ के बाहरी फैलाव का प्रतिबंब भी है।


हिज़्बुल्लाह ने लेबनान में इज़रायली हमले में मारे गए 4 आतंकवादियों के नाम बताए

दुनिया: लाल सागर के तनाव को कम करने के लिए कोशिश करेगा चीन और मध्य पूर्व में तैनात अमेरिकी सैनिक लौटे घर

ईरान समर्थित आतंकवादी समूह हिज्बुल्लाह ने गुरुवार को अपने उन चार सदस्यों के नाम बताए जो दक्षिणी लेबनान में इजरायली हवाई हमले में मारे गए थे। हिज्बुल्लाह ने कहा कि मृत लड़ाकों की पहचान हुसैन हादी याजबेक, हादी राचा, इब्राहिम पहत्ज और होसैन गजाला के रूप में की गई है।

नई मौतों के साथ, अक्टूबर 2023 में हमास के हमले के बाद से इजरायली सेना के साथ चल रही झड़पों में मारे गए हिज्बुल्लाह आतंकवादियों की संख्या बढ़कर 151 हो गई है।

हिज्बुल्लाह ने कहा कि उसके ज्यादातर सदस्य लेबनान, लेकिन, कुछ सीरिया में भी मारे गए। बुधवार रात को एक टेलीविज़न संबोधन में, समूह के प्रमुख सैय्यद हसन नसरल्लाह ने इज़रायल को लेबनान के खिलाफ हमलों का विस्तार करने पर बिना किसी रोक-टोक के हमला करने की चेतावनी दी थी।

पीएम सुनक के शरण बैकलॉग को खत्‍म करने के दावों की जांच करेगी सांख्यिकी निगरानी संस्था

ब्रिटेन में सांख्यिकी पर नजर रखने वाली एक शीर्ष संस्था ने कहा है कि वह प्रधानमंत्री ऋषि सुनक के शरण बैकलॉग को साफ करने के दावों पर गौर करेगी, क्योंकि विपक्ष ने इसे "झूठ" कहा है और कंजर्वेटिव नेता से इसे "रोकने" के लिए कहा है।

द इवनिंग स्टैंडर्ड के अनुसार, यूके सांख्यिकी प्राधिकरण ने बुधवार को कहा कि वह घोषणा पर विचार कर रहा है क्योंकि पीएम सुनक और उनके मंत्रियों के सफल होने के दावे के बावजूद 4,500 से अधिक "विरासत" मामले लंबित हैं। दावों की जांच सांख्यिकी विनियमन कार्यालय, सांख्यिकी निगरानी संस्था की नियामक शाखा द्वारा की जाएगी।

सुनक ने मंगलवार को कहा कि उन्होंने पिछले साल 112,000 से अधिक शरण मामलों पर कार्रवाई के साथ अपनी प्रतिबद्धता पूरी की है और छोटी नाव पारगमन में 36 प्रतिशत की कमी आई है।


मध्य पूर्व में तैनात किए गए लगभग 100 अमेरिकी सैनिक लौटे घर

दुनिया: लाल सागर के तनाव को कम करने के लिए कोशिश करेगा चीन और मध्य पूर्व में तैनात अमेरिकी सैनिक लौटे घर

अमेरिकी सेना के एक प्रवक्ता ने कहा है कि 7 अक्टूबर, 2023 के हमास हमले के मद्देनजर मध्य पूर्व में तैनात किए गए लगभग 100 अमेरिकी सैनिक अपने होम स्टेशनों पर लौट आए हैं।

लेफ्टिनेंट कर्नल रॉब लॉडविक ने बुधवार को सीएनएन को बताया, "अक्टूबर 2023 से, लगभग 1,100 सैनिकों को होम स्टेशनों से यूएस सेंट्रल कमांड एरिया ऑफ रिस्पॉन्सिबिलिटी (एओआर) में तैनात किया गया है।''

"इनमें से लगभग 100 सैनिक अपने होम स्टेशनों पर लौट आए हैं।"

लॉडविक ने आगे कहा कि 1,300 सैनिक अभी भी तैनाती की तैयारी के आदेश पर हैं। हालांकि, यह स्पष्ट नहीं है कि कौन से सैनिक अपनी तैनाती के बाद से अमेरिका लौट आए हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;