अमेरिका: भारतीय छात्रा को टक्कर मारने के बाद पुलिसकर्मी ने उड़ाया मजाक, हंसते हुए कहा 'मर गई लड़की'

साउथ लेक यूनियन में नॉर्थईस्टर्न यूनिवर्सिटी की 23 वर्षीय छात्रा जाह्नवी कंडुला 23 जनवरी को डेक्सटर एवेन्यू नॉर्थ और थॉमस स्ट्रीट के पास टहल रही थी, इसी दौरान उसे सिएटल पुलिस की गाड़ी ने टक्कर मार दी।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

आईएएनएस

अमेरिका में पुलिस की गाड़ी की चपेट में आने से एक भारतीय छात्रा की मौत के मामले में एक बॉडी कैमरा फुटेज की जांच चल रही है। इस फुटेज में छात्रा को टक्कर मारने के बाद पुलिस अधिकारी को फोन कॉल पर हंसते और मजाक करते हुए देखा जा सकता है।

साउथ लेक यूनियन में नॉर्थईस्टर्न यूनिवर्सिटी की 23 वर्षीय छात्रा जाह्नवी कंडुला 23 जनवरी को डेक्सटर एवेन्यू नॉर्थ और थॉमस स्ट्रीट के पास टहल रही थी, इसी दौरान उसे सिएटल पुलिस की गाड़ी ने टक्कर मार दी। 

बुधवार को केआईआरओ 7 न्यूज चैनल की रिपोर्ट के अनुसार, फुटेज में सिएटल पुलिस ऑफिसर्स गिल्ड के वाइस प्रेसिडेंट डैनियल ऑडेरर को गाड़ी चलाते हुए देखा जा सकता है और उन्हें गिल्ड के प्रेसिडेंट माइक सोलन के साथ एक कॉल में यह कहते हुए सुना जा सकता है, 'उसकी कुछ खास कीमत नहीं थीं।'

"वह मर चुकी है" कहने के तुरंत बाद, कंडुला का जिक्र करते हुए ऑडेरर हंसते हुए कहते हैं, "वह एक रेगुलर पर्सन है।" फिर वह कहते है, "बस एक 11,000 डॉलर का चेक लिखो, वैसे भी वह 26 साल की थी, उसकी कुछ खास कीमत नहीं थीं।"


ऑडरर ने यह भी उल्लेख किया है कि डेव  50 (मील प्रति घंटा) जा रहा था और यह एक प्रशिक्षित ड्राइवर के लिए कंट्रोल से बाहर नहीं है। जून में जारी एक पुलिस जांच में पाया गया कि डेव कॉल पर बात करते हुए 74 मील प्रति घंटे की रफ्तार से गाड़ी चला रहे थे, इस दौरान उन्होंने कंडुला को टक्कर मारी, जो 100 फीट से अधिक दूर जाकर गिरी। 

एसपीडी ने सोमवार को जारी एक बयान में कहा कि ऑडरर की कॉल के वीडियो की पहचान विभाग के एक कर्मचारी द्वारा रुटीन कोर्स के दौरान की गई और इसे प्रमुख एड्रियन डियाज़ तक पहुंचाया गया।

बयान में कहा गया है कि आदेश के बाद, कर्मचारी ने इसे समीक्षा के लिए पुलिस जवाबदेही कार्यालय (ओपीए) में भेज दिया।

यह कहते हुए कि उसने वीडियो "पारदर्शिता के हित में" जारी किया है। एसपीडी ने कहा कि वह वीडियो पर तब तक कोई टिप्पणी नहीं करेगा जब तक कि ओपीए अपनी जांच पूरी नहीं कर लेती। कंडुला ने पहली बार 2021 में आंध्र प्रदेश के कुरनूल जिले के अदोनी से अमेरिका की यात्रा की।


उनके रिश्तेदार, अशोक मंडुला, जो टेक्सस में रहते हैं, ने सिएटल टाइम्स को बताया: "परिवार के पास कहने के लिए कुछ नहीं है... सिवाय इसके कि मुझे हैरानी है कि क्या इनके लिए बेटियों या पोतियों की कोई कीमत है। जीवन तो जीवन है।"

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;