दुनिया: पाकिस्तान को श्रीलंका बनाना चाह रहीं विदेशी शक्तियां और शी चिनफिंग और बिल गेट्स के बीच हुई मुलाकात

पाकिस्तान के वित्त मंत्री इशाक डार ने अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) पर बड़ा आरोप लगाया है। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 16 जून को पेइचिंग में बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के सह-अध्यक्ष बिल गेट्स के साथ मुलाकात की।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

शी चिनफिंग और बिल गेट्स के बीच हुई मुलाकात

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 16 जून को पेइचिंग में बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के सह-अध्यक्ष बिल गेट्स के साथ मुलाकात की। शी चिनफिंग ने कहा कि आपने चीन के विकास के लिए बहुत कार्य किए हैं। हम पुराने दोस्त हैं। आप इस साल मुझसे मिले पहले अमेरिकी मित्र हैं। मेरा मानना है कि चीन और अमेरिका के बीच संबंधों का आधार नागरिकों में है। मैं अमेरिकी लोगों पर अपनी उम्मीदें लगा रहा हूं। वर्तमान विश्व स्थिति में हम दोनों देशों के लोगों और पूरी मानव जाति के लिए लाभदायक काम कर सकते हैं।

बिल गेट्स ने कहा कि अतीत में हमारे बीच बहुत अच्छा आदान-प्रदान हुआ है। आज मैं आपके साथ बहुत सारे अहम मुद्दों पर चर्चा करना चाहता हूं। मैं पिछले चार सालों में चीन नहीं आ सका। यह खेद की बात है। इसलिए अब चीन आकर बहुत उत्साहित हूं।

फाइनेंस एग्जिक्युटिव ने इंस्टाग्राम से किशोरी को बनाया निशाना, दिया ड्रग्स, किया बलात्कार

अमेरिका में एक फाइनेंस एग्जिक्युटिव पर सेकेंड डिग्री बलात्कार के पांच मामलों समेत 17 आरोप लगे हैं। उसने अपने आईपैड पर किशोर लड़कियों के इंस्टाग्राम अकाउंट के स्क्रीन शॉट रखे थे, और उन्हें निशाना बनाया था जिन्होंने पैसे न होने या खुद को नुकसान पहुंचाने की बात साझा की थी। न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, आरोपी 54 वर्षीय माइकल ओल्सन ने एक पीड़ित - एक 14 वर्षीय लड़की - को विमान से देश भर की सैर कराई। वह उसे अपनी बेटी बताता था। उसे ड्रग्स दिया और न्यूयॉर्क शहर में होटल के कमरों में उसके साथ बलात्कार किया।

मैनहट्टन जिला अटॉर्नी के कार्यालय के अभियोजकों के अनुसार, किशोर पीड़िता को ओल्सन के साथ मिडटाउन मैनहट्टन होटल के कमरे में पाया गया था जब उसने कोकीन और केटामाइन का काफी अधिक मात्रा में सेवन कर रखा था।


दाह संस्कार डेटा जारी नहीं होने के कारण चीन ने कोविड की मृत्यु के प्रमुख संकेतक को रोका

चीन ने देश की सबसे बड़ी कोविड लहर के दौरान महामारी से मरने वालों की संख्या के एक प्रमुख संकेतक को रोकते हुए तिमाही रिपोर्ट से पिछली सर्दियों में किए गए दाह संस्कारों की संख्या घटा दी है। मीडिया ने यह जानकारी दी। गार्जियन की रिपोर्ट के अनुसार, महीनों की अस्पष्टीकृत देरी के बाद, चीनी नागरिक मामलों के मंत्रालय ने पिछले शुक्रवार को 2022 की चौथी तिमाही के लिए विवाह और सामाजिक कल्याण पर सारांश आंकड़े जारी किए, इससे अटकलें लगाई गईं कि देश प्रासंगिक डेटा को ट्रैक करने में सक्षम नहीं था।

त्रैमासिक रिपोर्ट से देश भर में हुए दाह संस्कारों की संख्या गायब थी। दक्षिण चीन मार्निंग पोस्ट ने बताया कि प्रांतीय स्तर पर, जियांगसू और झेजियांग सहित एक दर्जन से अधिक क्षेत्रों ने अपनी हालिया रिपोर्ट में यह आंकड़ा शामिल नहीं किया है, जबकि कुछ ने अभी तक कोई डेटा जारी नहीं किया है।

मिस्र के प्रधानमंत्री रूस और यूक्रेन की यात्रा के लिए रवाना

दुनिया: पाकिस्तान को श्रीलंका बनाना चाह रहीं विदेशी शक्तियां और शी चिनफिंग और बिल गेट्स के बीच हुई मुलाकात

मिस्र के प्रधानमंत्री मुस्तफा मदबौली ने अफ्रीका-मध्यस्थ पहल के तहत रूस-यूक्रेन संघर्ष को हल करने के मिशन के तहत कीव और सेंट पीटर्सबर्ग के लिए रवाना हो गए हैं। उनके साथ एक प्रतिनिधिमंडल भी है। समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने राज्य द्वारा संचालित अहरम ऑनलाइन समाचार वेबसाइट के हवाले से बताया कि मदबौली के साथ विदेश मंत्री सामेह शौकरी भी हैं।

इस पहल की घोषणा मई में दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामाफोसा ने संयुक्त अफ्रीकी शांति प्रतिनिधिमंडल की ओर से की थी, जिसमें मिस्र के प्रधानमंत्री के साथ दक्षिण अफ्रीका, सेनेगल, युगांडा, जाम्बिया और कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य के नेता शामिल थे।


विदेशी शक्तियां पाकिस्तान को श्रीलंका बनाना चाह रहीं- वित्त मंत्री इशाक डार

दुनिया: पाकिस्तान को श्रीलंका बनाना चाह रहीं विदेशी शक्तियां और शी चिनफिंग और बिल गेट्स के बीच हुई मुलाकात

पाकिस्तान के वित्त मंत्री इशाक डार ने अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) पर बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने दावा कर दिया कि विदेशी शक्तियां चाहती थी कि पाकिस्तान को ऋण ना मिले। उनका मकसद इस्लामाबाद को श्रीलंका की तरह डिफॉल्ट करना था। इसके बाद वो बातचीत करना चाह रही थीं। डॉन न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, सीनेट की स्थायी वित्त समिति के समक्ष गवाही देते हुए उन्होंने एक बार फिर जोर देकर कहा कि पाकिस्तान बेलआउट पैकेज के साथ या उसके बिना अपने दायित्वों को पूरा करेगा।

उन्होंने कहा कि आईएमएफ द्वारा नौवीं समीक्षा के पीछे अनावश्यक देरी के लिए कोई कारण नहीं बताया गया है, जो नवंबर 2022 से लंबित है। आईएमएफ मदद करे या नहीं, पाकिस्तान डिफॉल्ट नहीं होगा। द न्यूज के मुताबिक डार ने स्पष्ट किया है कि पाकिस्तान एक संप्रभु देश है और आईएमएफ की हर मांग को स्वीकार नहीं कर सकता। एक संप्रभु देश के तौर पर इस्लामाबाद को कुछ कर रियायतें देने का अधिकार होना चाहिए। आईएमएफ चाहता है कि हम किसी भी क्षेत्र में कर रियायतें ना दें।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 16 Jun 2023, 8:32 PM
;