दुनिया: ईरान गाजा में चिकित्सक भेजने को तैयार और हमास चाहता है युद्धविराम के दौरान ड्रोन का इस्‍तेमाल न करे इजरायल

ईरान ने कहा है कि वह युद्धग्रस्त गाजा पट्टी में स्वयंसेवी चिकित्सकों और नर्सों को भेजने के लिए तैयार है। हमास ने इजरायल से गाजा में चार दिवसीय मानवीय युद्ध विराम के दौरान ड्रोन का उपयोग बंद करने की मांग की है।

इजरायल ने गाजा पर तेज किया आक्रमण
इजरायल ने गाजा पर तेज किया आक्रमण
user

नवजीवन डेस्क

ईरान गाजा में चिकित्सक भेजने को तैयार : मंत्री

फोटोः IANS
फोटोः IANS

ईरान के स्वास्थ्य मंत्री बहराम इनोल्लाही ने युद्धग्रस्त गाजा पट्टी में स्वयंसेवी चिकित्सकों और नर्सों को भेजने के लिए अपने देश की तत्परता की आवाज उठाई है। समाचार एजेंसी आईआरआईबी की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने मंगलवार को पूर्वोत्तर प्रांत खुरासान रज़ावी में ईरान के राष्ट्रीय नर्स दिवस के अवसर पर एक समारोह के मौके पर यह टिप्पणी की।

मंत्री ने कहा कि "हम गाजा में लोगों को (चिकित्सा) सहायता प्रदान करने के लिए तैयार हैं, जहां अस्पतालों को "क्रूर इजरायली हमलों" का सामना करना पड़ा।"

समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, इनोल्लाही ने कहा कि ईरान ने फिलिस्तीनी तटीय क्षेत्र में डॉक्टरों को भेजने के लिए जरूरी समन्वय सुनिश्चित किया है।

लगभग 95 प्रतिशत इंटरनेट यूजर सोशल मीडिया पर हैं एक्टिव

फोटोः IANS
फोटोः IANS

दुनिया के तमाम इंटरनेट यूजरों में से लगभग 95 प्रतिशत अब विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सक्रिय हैं, जो पिछले साल की तुलना में चार प्रतिशत अधिक है। बुधवार को एक रिपोर्ट में यह बात सामने आई है।

इस साल अक्टूबर तक दुनिया भर में 5.3 अरब इंटरनेट यूजर थे जो वैश्विक आबादी का 65.7 प्रतिशत है। इसका मतलब है कि ओन्लीअकाउंट्स डॉट आईओ के आंकड़ों के अनुसार, इंटरनेट यूजरों की संख्‍या में एक साल में 18.9 करोड़ या 3.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

वहीं, 4.95 अरब या दुनिया की 61.4 प्रतिशत आबादी सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म पर है।

दिलचस्प बात यह है कि सोशल मीडिया यूजरों की संख्‍या इंटरनेट इस्‍तेमाल करने वालों की तुलना में तेजी से बढ़ रही है। एक साल में उनकी वृ‍द्धि दर 4.5 प्रतिशत (लगभग 21.5 करोड़ यूजर) रही।


हमास चाहता है मानवीय युद्धविराम के दौरान ड्रोन का इस्‍तेमाल न करे इज़रायल

बंधकों की रिहाई की शर्त के तहत हमास ने इजरायल से गाजा में चार दिवसीय मानवीय युद्ध विराम के दौरान ड्रोन का उपयोग बंद करने की मांग की है। कतरी मध्यस्थों के अनुसार, यह इजरायल के मोस्‍ट वांटेड की सूची में सबसे ऊपर मौजूद हमास के सैन्य कमांडर याह्या सिनवार द्वारा रखी गई प्रमुख मांगों में से एक है।

हमास और इज़रायल बुधवार सुबह मानवीय युद्ध विराम पर सहमत हुए। कतर और अमेरिका की मध्यस्थता वार्ता के बाद इस पर सहमति संभव हो सकी। जानकार सूत्रों के मुताबिक, इजरायल भी जेल में बंद गिरफ्तार फिलिस्तीनियों को रिहा करेगा।

हालाँकि इज़रायल ने स्पष्ट रूप से कहा है कि वह किसी भी हत्या के आरोपी को रिहा नहीं करेगा और रिहा होने वाले कैदियों में ज्यादातर महिलाएं और बच्चे हैं।

अमेरिका में भारतीयों की तीसरी सबसे बड़ी अवैध अप्रवासी आबादी : प्यू

फोटोः IANS
फोटोः IANS

प्यू रिसर्च सेंटर के अनुसार लगभग 725,000 की संख्या में भारतीय मेक्सिको और अल साल्वाडोर के बाद अमेरिका में अवैध अप्रवासियों की तीसरी सबसे बड़ी आबादी हैं। शोध में कहा गया है कि 2021 तक, देश के 10.5 मिलियन अनधिकृत अप्रवासी कुल अमेरिकी आबादी का लगभग तीन प्रतिशत और विदेश में जन्मी आबादी का 22 प्रतिशत प्रतिनिधित्व करते हैं।

2021 में देश के 39 प्रतिशत अनधिकृत आप्रवासियों की संख्या मेक्सिको से थी, जिनकी संख्या लगभग 4.1 मिलियन थी, उसके बाद अल साल्वाडोर (800,000) भारत (725,000) और ग्वाटेमाला (700,000) थे।

जबकि 2017 से 2021 तक मेक्सिको से संख्या में 900,000 की गिरावट आई, उसी समय अन्य देशों से अवैध अप्रवासियों की संख्या तेजी से बढ़ी। 2021 में, यह जनसंख्या 6.4 मिलियन थी, जो 2017 से 900,000 अधिक है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;